दमोह। नईदुनिया प्रतिनिधि

मंगलवार को जिपं अध्यक्ष कार्यालय में सामान्य सभा की बैठक आयोजित की गई। जिसमें जिपं से संबंधित विभागों के कार्यों के संबंध में चर्चा होनी थी। बैठक में जिपं के अधिकांश समय समय पर नहीं पहुंच पाए। इसी बीच अध्यक्ष शिवचरण पटेल और जिपं उपाध्यक्ष रामबाई के बीच आपस में चर्चाएं शुरू हुईं। जिसमें जिपं कार्यालय में हुई नियुक्तियां का मुद्दा दोनों ने उठाया। चर्चा के दौरान जिपं सीईओ एचएस मीणा को बुलाया गया, लेकिन वे बैठक में उपस्थित न होने के बहाने बनाने लगे। काफी मान मनव्वल के बाद जिपं सीइओ दोनों ही जनप्रतिनिधियों से चर्चा करने के लिए उनके पास पहुंचे। सीईओ श्री मीणा से जिपं में हुई नियुक्तियों के संबंध में जानकारी ली गई, लेकिन वे कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हुए और उठकर अपने चेंबर में चले गए।

चेंबर से निकाला बाहर

नियुक्तियों के संबंध में श्री मीणा किसी प्रकार को जवाब नहीं दे पाए और अपने चेंबर में आकर बैठ गए। तब दोनों ही जनप्रतिनिधियों ने कर्मचारियों को उन्हें बुलाने भेजा, लेकिन वे नहीं आए। इसके बाद जिपं उपाध्यक्ष रामाबाई स्वयं जिपं सीईओ के चेंबर में पहुंची और उन्हें बाहर बुलाया, लेकिन नियुक्ति के संबंध में किसी प्रकार की जानकारी नहीं दे पाए।