उमरिया। नईदुनिया प्रतिनिधि

लोकसभा चुनाव के दौरान सुरक्षा को लेकर पुलिस ने क्या प्लानिंग की है और की गई प्लानिंग में और क्या सुधार हो सकता है इस पर जबलपुर में होने वाली मीटिंग के दौरान चर्चा होगी और प्लानिंग ओके होगी। दरअसल 23 मार्च को जबलपुर में निर्वाचन आयोग शहडोल सहित तीन जोन के पुलिस अधिकारियों की बैठक लेगा। इसमें रीवा और जबलपुर जोन के पुलिस अधिकारी भी शामिल होंगे। ये जानकारी रविवार को आईजी शहडोल रेंज एसपी सिंह के उमरिया आगमन के दौरान सामने आई। मीटिंग से पहले आईजी ने उमरिया और डिडौंरी जिले का भ्रमण किया और उमरिया पहुंचने के बाद उन्होंने पत्रकारों से अनौपचारिक चर्चा भी की। इस दौरान डीआईजी पीएस उइके, एसपी सचिन शर्मा, एएसपी रेखा सिंह, एसडीओपी आरके शुक्ला भी मौजूद थे।

शांतिपूर्वक हो चुनाव

आईजी एसपी सिंह ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो और इसके लिए हमारी तरफ से हर संभव तैयारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि इसी तैयारी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने जोन के सभी थानों की लोकेशन को समझने के लिए यह टूर किया है। उमरिया के बाद उन्होंने डिडौंरी जिले के थानों को भी देखने की बात कही। आईजी ने नईदुनिया से चर्चा करते हुए कहा कि अपने इस दौरे में वे थानों की स्थिति के अलावा पुलिस कर्मचारियों की समस्याओं पर भी ध्यान केंद्रित करेंगे और उनके आवास की समस्या को भी समझने की कोशिश करेंगे।

इस पर आईजी का जोर

-आईजी ने कहा कि चुनाव को देखते हुए उनका सबसे ज्यादा जोर इस बात पर है कि वारंटियों को ज्यादा से ज्यादा गिरफ्तार किया जाए।

-वारंट तामिल कराया जाए और पुराने अपराधियों पर नजर रखी जाए और उनकी सूची तैयार की जाए। क्षेत्र में अपराधी और अपराधों की प्रकृति को समझा जाए।

-लायसेंसी हथियारों को जल्द से जल्द सभी थानों में जमा कराया जाए ।

आवास का बनेगा स्टीमेट

आईजी ने बताया कि उमरिया में पुलिस के आवास बनाने की तैयारी की जा रही है। पहले स्टीमेट तैयार होगा और इसके बाद आवास का निर्माण कराया जाएगा। यह सारे काम इसी साल शुरू होंगे। स्टीमेट बनाने का काम तो अप्रैल में शुरू हो सकता है पर आवास के निर्माण में कुछ समय लग सकता है। आईजी ने कहा कि पुलिस कर्मचारी जब अपने परिवार को बेहतर ढंग से रखेगा तभी वह बेहतर ढंग से अपनी ड्यूटी कर पाएगा।

चारों जिलों में बनेंगे नए थाने

-आईजी ने बताया कि उमरिया जिले में दो थानों का निर्माण कराया जाएगा। एक तो इंदवार थाना बनेगा और दूसरा यातायात थाने का निर्माण कराया जाएगा।

-आईजी ने यातायात थाने के लिए अच्छी लोकेशन पर जमीन देखने के निर्देश एसपी उमरिया को दिए हैं।

-शहडोल जिले में भी तीन थानों का निर्माण किया जाएगा। इसमें सीधी, सोहागपुर और सिंहपुर थाने शामिल हैं। अभी ये थाने किराए के भवन में संचालित हो रहे हैं।

-अनूपपुर जिले में बिजुरी थाना और यातायात थाने का निर्माण कराया जाएगा।

-डिंडौरी जिले में गाड़ा सराई थाना और यातायात थाने का निर्माण कार्य कराया जाएगा। इन सभी का प्रस्ताव पास हो चुका है।

0000

बिना अनुमति ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर प्रतिबंध

सिर्फ चुनाव पर नहीं, हमेशा हो डीजे पर प्रतिबंध

उमरिया। नईदुनिया प्रतिनिधि

लाउड स्पीकर के अनियंत्रित उपयोग से होने वाली जन परेशानी, ध्वनि प्रदूषण तथा शांति व्यवस्था के हित में मध्यप्रदेश कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से 27 मई 2019 तक के लिए विहित प्राधिकारी की लिखित अनुज्ञा के बिना जिले में ध्वनि विस्तारण यंत्रों का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है। लोगों की मांग है कि ये प्रतिबंध सिर्फ चुनाव में ही नहीं हमेशा लगना चाहिए। डीजे के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। शादी-विवाह के मौके पर लोग इतनी तेज आवाज में डीजे बजाते हैं कि घर के अंदर रहना मुश्किल हो जाता है।

इस दौरान रहेगा प्रतिबंध

जिला निर्वाचन अधिकारी संबंधित सहायक रिटर्निंग अधिकारी को प्राधिकृत अधिकारी बनाया गया है। जारी आदेश के तहत रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक के बीच किसी भी स्थान पर ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है। इसी प्रकार विहित प्राधिकारी ऐसे समस्त मामलों में जिनमें ध्वनि विस्तारक चलाए जाने की अनुज्ञा दी गई है, ध्वनि विस्तारक चलाए जाने की अवधि किसी भी एक दिन में 6 घंटे से अधिक नहीं होगी।

इस दौरान रहेगी अनुमति

आमसभा, जुलूस एवं प्रचार कार्य के लिए लाउड स्पीकर तथा ध्वनि विस्तारक यंत्रों के प्रयोग की अनुमति ग्रामीण तथा नगरीय क्षेत्रों में सुबह 6 बजे से रात 10 बजे के मध्य अधिकतम 6 घंटे के लिए दी जा सकेगी। ट्रक, जीप, टेम्पो, ऑटो, रिक्शा, तांगा आदि वाहनों में चुनाव प्रचार-प्रसार की अनुमति आवेदन करने पर ही दी जा सकेगी तथा ध्वनि विस्तारक यंत्र के रूप में डीजे का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। आवेदन पत्र में वाहन के पंजीयन क्रमांक का उल्लेख करना अनिवार्य होगा। बिना अनुमति लाउडस्पीकर या ध्वनि विस्तारक यंत्र द्वारा प्रचार-प्रसार करने या अनुमति के निर्दिष्ट अवधि के पश्चात लाउडस्पीकर या संबंधित उपकरण का उपयोग करने पर जब्त कर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

नहीं होता नियमों का पालन

आम लोगों का कहना है कि प्रशासन सिर्फ अखबार में ये खबर छपवाकर पुर्सत हो जाता है कि डीजे का उपयोग प्रतिबंधित है, जबकि इसका कहीं भी पालन नहीं किया जाता है। इस दिशा में भी प्रशासन को गंभीरता से ध्यान देना चाहिए। इससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। व्यापारी मनीष जायसवाल का कहना है कि डीजे के तेज शोर के कारण बुजुर्गों की घबराहट बढ़ जाती है और वे तनाव में आ जाते हैं। डॉक्टरों का भी कहना है कि ज्यादा तेज आवाज के कारण पशु-पक्षी भी परेशान होते हैं। कुत्तों का जीना हराम हो जाता है और वे दूर भागने लगते हैं। तेज आवाज के कारण ध्वनि प्रदूषण होता है इसके बाद भी प्रशासन अपने ही आदेश का पालन नहीं करवा पाता है। शहर के लोगों की मांग है कि शादी-विवाह के दौरान रोड डीजे और कार्यक्रम स्थल पर बजने वाले डीजे पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया जाए।

0000 गर्मी आते ही गहराने लगा जलसंकट

भरेवा। पिछले साल की तरह इस साल भी अभी से भरेवा क्षेत्र के लोगों के सामने जल का संकट उत्पन्न होने लगा है। इतने गहरे जलसंकट के बाद भी नल जल योजना सिर्फ कागजों में चालू है। जहां एक और शासन की मंशा हर घर को पानी पहुंचाने की है वहीं अधिकारियों की ढील के कारण पेयजल की यह योजना ठंडे बस्ते में डाल दी गई है। नल जल योजना को क्रियान्वित करने के लिए कर्मचारी भी नियुक्त किए गए थे लेकिन अभी तक उनका कोई मानदेय भी नहीं दिया गया। ग्राम दमोय और भरेवा में गहरा जलसंकट है तब भी नल जल योजना पर ध्यान नहीं दिया जा रहा। अभी भी ऐसे कई गांव है जहां यह योजना ठप पड़ी है। आगामी कुछ दिनों में और ज्यादा जलसंकट संकट बढ़ने वाला है। अभी हैंडपम्पों में 150 से 160 फीट तक पाइप डाले हुए हैं तब भी पानी नहीं आ रहा है। यही स्थिति मोटरों की भी है। समय रहते पेयजल व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया तो पेयजल समस्या और ज्यादा गंभीर होकर विकराल रूप धारण कर लेगी।

वाल्व होल से हो सकती है कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना

उमरिया। पेयजल सप्लाई के लिए बनाए गए वाल्व को खुला छोड़ दिए जाने के कारण शहर में खतरा उत्पन्न हो गया है। रात के अंधेरे में इसकी वजह से राहगीर गिरकर चोटिल हो जाते हैं। शहर के जयस्तंभ चौक, नौ नंबर कॉलोनी, मुख्य बाजार के पास खुले हुए वाल्व से कई लोग चोटिल हो चुके हैं। इसे ढंकने के लिए नपा द्वारा कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। लोगों ने इस ओर नगर पालिका के अमले से ध्यान दिए जाने की मांग की है।

जगह-जगह खुले हुए वाल्व की वजह से शहर में कई बार हादसे हो चुके हैं। 6 महीने पहले जयस्तंभ चौक के पास खुले हुए वाल्व में गिरकर एक बाइक चालक गंभीर रूप से घायल हो गया था। बात केवल जयस्तंभ चौक की नहीं है शहर के अन्य थानों पर भी खुले हुए वाल्व में गिरकर लोग चोटिल हो चुके हैं। बावजूद इसके आज तक इन वाल्व को ढंका नहीं जा रहा है। जिससे समस्या जस की तस बनी हुई है।

000000

नम्बर प्लेट पर लिखा था पद नाम, आरटीओ ने 7 हजार का काटा चालान

11 अन्य वाहनों से 11250 रुपए की वसूली

फोटो 4 नम्बर प्लेट निकालते पुलिस अधिकारी।

भरेवा। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिला परिवहन अधिकारी अनिमेश गढ़वाल की लगातार कार्रवाई जारी है। गत दिवस मानपुर जनपंद में अवैध रूप से वाहनों के नंबर की जगह पर नाम या टेटू लगाकर घूमने वाले वाहन मालिकों पर कार्रवाई करते हुए 14 अवैध नेम प्लेट पर 7 हजार का चालान काटा गया है। वहीं काली फिल्म, ओवरलोड सहित अन्य वाहनों की चेकिंग की गई। इसी दौरान टैक्स बकाया होने पर एक जेसीबी को जब्त करते हुए मानपुर पुलिस को सुपुर्द किया गया, जेसीबी का टैक्स करीब 1 लाख 12 हजार रुपए बकाया है जिसे भरने के निर्देश दिए गए हैं।

अमरपुर में 12 लीटर अवैध शराब जब्त

अवैध शराब बनाने एवं बेचने वाले के विरुद्ध कार्रवाई कर आरोपी नारायण पिता रामप्रताप जायसवाल 51 साल निवासी पलझा चौकी अमरपुर के पास से अवैध कच्ची महुआ शराब 12 लीटर कीमती 1200 रुपए जब्त कर धारा 34 ए आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। इसी तरह वाहन चेकिंग कर आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले, नंबर प्लेट ठीक से स्पष्ट ना लिखा होने से चालकों के विरुद्ध मोटर व्हीकल एक्ट के तहत चालानी कार्रवाई कर 11 वाहनों से 11250 रुपए समन शुल्क वसूल किया गया। यह कार्रवाई पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं एसडीओपी के निर्देशन में चौकी प्रभारी सुंद्रेश सिंह द्वारा की गई।

यहां भी हुई कार्रवाई

आबकारी विभाग द्वारा 211 लीटर हाथ भटटी मदिरा एवं 600 किलोग्राम महुआ लाहन जब्त किया है। जिला आबकारी अधिकारी व्हीके चौधरी ने बताया कि विगत 8 से लेकर 14 मार्च तक 211 लीटर हाथ भट्टी शराब मदिरा तथा 600 किलोग्राम महुआ लाहन जब्त कर कुल 26 आपराधिक प्रकरण आबकारी अधिनियम के तहत पंजीबद्ध किए गए हैं।

0000

मतदाताओं के हर सवाल का आज मिलेगा जवाब

उमरिया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदाताओं के चुनाव संबंधी हर सवाल का निर्वाचन आयोग द्वारा जवाब दिया जाएगा। इस हेतु 18 मार्च को शाम 5 बजे संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश अभिजीत अग्रवाल सीईओएमपी फेसबुक लाइव के माध्यम से हर सवाल का जवाब देंगे। उन्होंने मतदाताओं से अपील की है कि है मतदाताओं को जो भी चुनाव संबंधी जानकारी प्राप्त करनी है वे निर्धारित तिथि एवं समय पर सीईओ एमपी पर अपने सवाल कर सकते हैं।