दतिया। नईदुनिया प्रतिनिधि

इस साल गर्मी कम होने का नाम नहीं ले रही है। हालत यह है पारा भी नीचे होने का नाम नहीं ले रहा है। जून महीने में राहत की उम्मीद अब तक नहीं है। शनिवार को अधिकतम तापमान जहां 37.7 डिसे रहा, वहीं न्यूनतम तापमान 22.5 डिसे दर्ज किया गया है।

तीन दिन पहले हुई बारिश के बाद अब उमस ने लाोगों पर सितम ढाना शुरू कर दिया है। रात में भी गर्मी कम नहीं हो रही है। उमस तथा गर्मी के कारण दिन में कूलर ही नहीं, एसी तक फेल है। छतों पर रखी टंकियों का पानी भी गर्म हो जा रहा है। वहीं लोगों का कहना है कि यह मौसम काम पर भी असर डाल रहा है। थोड़ा काम करने के बाद ही थकावट का अहसास होने लगता है। वहीं पसीना तो बंद होने का नाम ही नहीं ले रहा है। इसके साथ उमस के चलते शरीर में चिपचिपापन बना हुआ है। वहीं बादल तो होते हैं। पर वे बिना बरसे ही लौट जाते हैं। गर्मी अधिक होने के कारण बच्चे भी घरों में कैद से हो गए है। गर्मी तेज होने के साथ ही लोगों के लिए मुसीबत बनती जा रही है। वहीं अस्पतालो में भी उल्टी दस्त के मरीजों का इजाफा देखने को मिल रहा है। अधिकांश लोगों में पानी की कमी महसूस की जा रही है।