दतिया। नईदुनिया प्रतिनिधि

हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में मां सरयू काव्य धारा का आयोजन सफलतापूर्वक हुआ। श्रमिक नेता अंबिका शर्मा की मां सरयू देवी की स्मृति में प्रतिमाह 'मां सरयू काव्य धारा' का आयोजन होता है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध अभिभाषक राम शर्मा थे तथा अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार रामहजूर दांगी ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में राजेश कतरोलिया उपस्थित थे।

कार्यक्रम के प्रारंभ में हरिकृष्ण हरि ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। बुंदेली कवि सुन्दर श्रीवास्तव ने काव्य पाठ करते हुये कहा 'जीवन कैसे कट है प्यारे लला तुम अवे न होओ न्यारे' आगे कल्पना उदैनियां ने अपनी बात इस प्रकार कही 'मैं बिटियां बुंदेलखंड की बोलू बुंदेली वानी। व्यंगकार कवि राज गोस्वामी ने इस अवसर पर कहा कि ' इनलव के गट्टन पे पंखों हम खों नहीं सुहात सबसे नोनी नींद हमें खड़री खटिया पे आत' कार्यक्रम में रामहजूर दांगी, राजेन्द्र शुक्ला, पूरन चंद शर्मा, मुन्नीलाल शर्मा, कमलकान्त शर्मा, डॉ. लोकेन्द्र सिंह नागर आदि ने अपनी-अपनी रचनाएं प्रस्तुत की तथा खूब वाहवाही लूटी। स्वागत भाषण रामू शर्मा पार्षद ने दिया तथा कार्यक्रम का संचालन कमलकान्त शर्मा ने दिया। स्वेच्छा शर्मा ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। अवनीश शर्मा द्वारा अतिथियों का स्वागत किया गया।