फोटो 08 जीर्ण शीर्ण अस्पताल भवन

खूजा। ग्राम बड़ेरा सोपान में 40 साल पुराने आयुर्वेदिक औषधालय का भवन खंडहर स्थिति में है। इस संबंध में गांव के लोगों ने भी कई बार कलेक्टर से नए भवन बनवाने की मांग की फिर भी समस्या जस की तस बनी हुई है।

भांडेर अनुभाग के ग्राम पंचायत बड़ेरा सोपान में शासन द्वारा 40 साल पहले मरीजों के लिए आयुर्वेदिक अस्पताल खोला था। इस अस्पताल का लाभ आस-पास के गांव सिमथरा, नटर्रा, मैंथाना पहुज, टोरी, सदका, लहार हवेली, धनोटी, ढिमरपुरा बीसलपुरा के ग्रामीणों को मिलता था। धीरे-धीेरे अस्पताल भवन खंडहर होता चला गया। हालात वर्तमान में भलन में सांप, बिच्छू आदि जहरीले जीव वास कर रहे है। इससे अस्पताल स्टाफ भी परेशान है, वहीं मरीज भी भयभीत रहते है। यह भवन कभी भी गिर सकता है। जिससे बड़ी दुर्घटना हो सकती है। इसके बाद भी जिम्मेदार विभाग के अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।