- बस्ती में लगा हैंडपंप पड़ा है खराब

- नलों में निकल रहा है काला व बदबूदार पानी

फोटो 01 स्कूल के पीछे लगे हैंडपंप पर पानी भरते मोहल्लावासी।

तलैया मोहल्ला के पास स्थित भटियारा मोहल्ला की बरारों वाली गली में पांच में पेयजल की सप्लाई होने के कारण लोगों को पानी के संकट से जूझना पड़ रहा हैं। पांच दिन बाद जब नल आते भी हैं तो उसमें काला और गंदा पानी निकल रहा है। मजबूरी में लोगों को गंदे पानी को छानकर पीना पड़ रहा है, क्योंकि आसपास के क्षेत्र में पर्याप्त हैंडपंप नहीं है। स्कूल के पीछे लगा एकमात्र हैंडपंप भी बंद होने की कगार पर पहुंच गया है। पेयजल संकट से जूझ रहे लोग क्षेत्रीय पार्षद से हैंडपंप दुरुस्त कराने के लिए कई बार शिकायत कर चुके हैं, लेकिन अभी तक हैंडपंप को ठीक नहीं कराया गया है।

उल्लेखनीय है कि भटियारा मोहल्ला के बरारों वाली गली में लोगों को इस भीषण गर्मी के मौसम में पानी के संकट से जूझना पड़ रहा है, क्योंकि बस्ती में न तो नियमित पेयजल सप्लाई हो रही है और न ही हैंडपंपों की हालत अच्छी है। पेयजल की पूर्ति के लिए लोगों को दूसरे मोहल्लों में जाकर पानी भरकर लाना पड़ रहा है।

बॉक्स

नलों से निकल रहा गंदा पानी

लोगों ने बताया कि वैसे तो नलों में पांच-छह दिन में सप्लाई हो रही है, लेकिन पांच दिन भी लोगों को पीने के लिए गंदा पानी मिल रहा है। जब नल आते हैं तो लगभग 15 मिनट तक गंदा और काला पानी आता है, लेकिन जब तक नलों से साफ पानी आता है तब तक नल ही बंद हो जाते है। जिसके कारण कई लोग तो पीने का पानी भी नहीं भर पाते हैं।

बॉक्स

हैंडपंप मे मुश्किल से निकलता है पानी

लोगों का कहना है बरारा मोहल्लावासियों को पेयजल की पूर्ति के लिए एकमात्र हैंडपंप की सुविधा उपलब्ध कराई गई है ओर वह भी इन दिनों खराब हो रहा है। हैंडपंप से एक बाल्टी पानी निकालना भी मुश्किल होता है। लोगों ने बताया कि मोहल्ले में पानी की व्यवस्था नहीं होने के कारण लोगों का नहाना-धोना भी मुश्किल हो रहा है।

बॉक्स

पानी खरीदकर बुझा रहे हैं प्यास

नलों में हो रही गंदे और बदबूदार पानी की सप्लाई के कारण लोगों को बाजार से खरीदकर अपनी प्यास बुझाना पड़ रही है। नलों से निकल रहे गंदे पानी को लेकर क्षेत्रीय पार्षद और नगर पालिका ऑफिस में कई बार शिकायत कर चुके हैं, लेकिन किसी ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया है।

बॉक्स

गंदगी से नाले-नालियां हो रहे जाम

लोगों ने बताया कि मोहल्ले में सफाई कर्मचारियों के नहीं आने के कारण नाले-नालियां कचरे से जाम हो रहे हैं। नालियों में भरे कचरे के कारण गंदे पानी की निकासी नहीं हो पा रही है और दिनभर दुर्गंध आती है। कर्मचारियों के नहीं आने के कारण हम लोगों को खुद ही सड़क व नालियों की सफाई करना पड़ रही है।

इनका कहना है-

मोहल्ले में सबसे ज्यादा समस्या पेयजल की है, क्योंकि न तो नलों में पेयजल सप्लाई हो रहा है और न ही हैडपंप ठीक ठाक हालत में हैं। पेयजल की पूर्ति के लिए लोगों को दूसरे मोहल्लों से पानी भरकर लाना पड़ रहा है।

अफसार बानो, निवासी बरार गली

- नलों में हो रही गंदे और बदबूदार पेयजल की सप्लाई के कारण लोगों को पीने के पानी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। गंदे पानी को लेकर पार्षद से कई बार शिकायत कर चुके है, लेकिन वह हमारी शिकायतों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं।

अनीसा बानो, निवासी भटियारा मोहल्ला