खूजा। नईदुनिया न्यूज

संकुल केंद्र खिरिया आलम के तहत ग्राम चांदनी सरकारी मिडिल स्कूल का निर्माण लगभग पांच साल पहले किया गया था। गांव से बाहर दूर खेतों में बने इस स्कूल तक पहुंचने में छात्रों के वेसे ही परेशानी होती है वहीं स्कूल तक पहुंचने वाले मार्ग के मध्य एक बंबा पड़ता है, जिसे पार करने के लिए किसी भी तरह का कोई साधन नहीं है।

उक्त स्कूल गांव से तीन सौ मीटर दूरी पर है। जिसका पूरा रास्ता कच्चा है। बारिश के मौसम में समस्या बहुत अधिक होती है क्योंकि उक्त मार्ग पर जो बंबा उस पुलिया नहीं है बरसातों में इस बंबे में पानी भर जाता है। जिससे बच्चों को स्कूल जाने में खासी परेशानी होती है। बच्चों को स्कूल तक पहुंचाने के लिए स्कूल प्रबंधन ने ही पहल करते हुए बंबा के दोनो किनारों पर बड़ा पत्थर रखकर वैकल्पिक रास्ता तैयार किया है। लेकिन बच्चों के रास्ता पार करते समय बंबा मे गिरने का भय बना रहता है क्यिोंकि इस वैकल्पिक मार्ग पर किसी भी तरह की सुरक्षा का इंतजाम नहीं है। इस समस्या के चलते जहां स्कूल प्रहासन परेशान हैं तो वहीं ये परेशानी पालकों के भी सिर का दर्द बनी हुई है। समस्या के समाधान के लिए क्षेत्रीय विधायक घनश्याम पिरौनियां से भी स्कूल प्रबंधन द्वारा पुलिया निर्माण की बात कही गयी थी जिसके बाद विधायक द्वारा जल्दी ही पुलिया निर्माण का आश्वासन भी दिया गया था, लेकिन इस बात को एक साल बीत चुका है।

इनकी भी सुने-

हमने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को भी समस्या की गंभीरता से अवगत करा दिया है। साथ ग्राम पंचायत से भी कई गुहार लगा चुके हैं। इतना ही नहीं क्षेत्रीय विधायक को भी लिखित में आवेदन दे चुके हैं, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

सुभाष विमल, प्रधानअध्यापक