- आचार्य ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी ने क्षमायाचना करने आए गुरु भक्तों से कहा

राजगढ़। नईदुनिया न्यूज

वाणी व व्यवहार शुद्ध है, तो जीवन में सबकु छ सरल है। मनुष्य कि सी के वचनों को सुन कटुता पालकर अपराध बोध बना लेता है। आप कि सी को कटु वचन मत बोलो और यदि कोई ऐसे वचन बोलता है, तो उसे सुनकर कटुता को मन में नहीं आने दें। यदि ऐसा करने लगेंगे, तो क्षमापना करना ही नहीं पड़ेगा। कटुता, शत्रुता बढ़ा देती है। मनुष्य के शब्द ही मरहम है और शब्द ही तलवार।

ये प्रवचन आचार्य ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी ने पर्युषण पर्व की पूर्णाहुति के बाद क्षमायाचना करने आए गुरु भक्तों को दिए। उन्होंने कहा कि दंड देने के लिए व्यक्ति व्यवहार व बोलचाल बंद कर देता है। जीवन में सहजता, सरलता से परम आनंद प्राप्त होता है। जो कटुता वाली विचार धारा को समाहित कर लेता है, वह इस सुख से वंचित हो जाता है। व्यक्ति चाहकर भी कटुता की गांठ खोल नहीं पाता। सम्मान की हर व्यक्ति को अपेक्षा होती है। यदि उसकी उपेक्षा होती है, तो कटुता ज्यादा बढ़ जाती है। मुनिराज श्री पुष्पेंद्रविजयजी ने भी धर्मसभा को संबोधित कि या।

हुआ बहुमान

पर्युषण पर्व आराधना के लाभार्थी पारसमल नेनमल सकलेचा, जितेंद्रकु मार सकलेचा मदुराई, आचार्यश्री, मुनि व साध्वीमंडल को क्षमायाचना करने आए श्रीसंघों के प्रमुख बड़नगर श्रीसंघ से अक्षय बम, अमित कु मट, राजकु मार नाहर, सुशील श्रीमाल, कै लाश ओरा, मंदसौर श्रीसंघ से अनिल बाफना, मोहनलाल कर्णावट, खरसौदकलां श्रीसंघ से अशोक ओरा, घेवरमल बाफना, उज्जैन से संजय नाहर व राजेंद्र भवन ट्रस्टी मनसुख मारवाड़ी आदि का बहुमान श्री आदिनाथ राजेंद्र जैन श्वे. पेढ़ी ट्रस्ट श्री मोहनखेड़ा महातीर्थ के ट्रस्टी संजय सराफ, चातुर्मास समिति सदस्य दिलीप पुराणी, दिलीप भंडारी, के एम जैन, प्रकाश छाजेड़, अर्जुनप्रसाद मेहता आदि ने कि या।

कि या गुरुपद महापूजन

आचार्यश्री ने लाभार्थी परिवार पारसमल नेनमल संकलेचा को प्रभुश्री पार्श्वनाथ भगवान की नयनाभिराम प्रतिमा नित्य दर्शन के लिए प्रदान की। बहुमान के बाद आचार्यश्री के मुखारविंद से महामांगलिक का श्रवण कराया गया। दोपहर विजय मुहूर्त में पर्युषण पर्व आराधना के लाभार्थी परिवार ने गुरुपद महापूजन का आयोजन कि या।

फोटो?

16आरजेएच01? मोहनखेड़ा में प्रवचन वाणी कहते आचार्यश्री ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी।

16आरजेएच 02? मोहनखेड़ा में लाभार्थी परिवार को प्रतिमा देते आचार्यश्री।

तपस्वियों की अनुमोदना कर कि या बहुमान

नागदा। श्रीकांता राठौड़ के सिद्धि तप के उपलक्ष्य में जितेंद्रकु मार वीरेंद्रकु मार राठौड़ परिवार द्वारा तप अभिनंदन समारोह रविवार को बस स्टैंड स्थित स्थानक भवन में रखा गया। अध्यक्षता स्वाध्याय संघ थांदला की ममता मेहता ने की। मुख्य अतिथि चंदना श्राविका मंडल की मुख्य संयोजिका, उपभोक्ता फोरम की मेंबर व जज माइनॉरिटी जिलाध्यक्ष हर्षा रुनवाल थीं। कार्यक्रम में राजेंद्र बोकड़िया, संतोष मेहता, दिलीप नाहर, ममता मेहता ने तपस्वी का गुणानुवाद कि या। स्तवन रानी श्रीमाल, पूजा मोदी, सुनीता राठौड़, स्वेता मेहता, आयुषी चौधरी एवं अनिल नाहर द्वारा तपस्वियों की अनुमोदना की। 9 उपवास से ऊपर की तपस्या करने वाले लगभग 12 तपस्वियों एवं अतिथियों का शॉल-श्रीफल से बहुमान कि या गया। तपस्वी रत्ना श्रीकांता राठौड़ की सिद्धि तप की तपस्या का बहुमान अणु महिला मंडल, मूर्ति पूजक श्रीसंघ, मालवा महासंघ, विहार सेवा समिति, माइनॉरिटी फे डरेशन यूथ इकाई, जितेंद्र राठौड़ मित्र मंडल व नवरत्न परिवार द्वारा कि या गया। पक्खी मंडल नागदा द्वारा आगामी योजना पर प्रकाश डाला। सकल श्रीसंघ की नवकारसी एवं स्वामी वात्सल्य राठौड़ परिवार द्वारा रखा गया। संचालन सुनील चौधरी ने कि या। जानकारी अभिषेक मोदी ने दी।

फोटो के प्सन?- 16 नागदा-02 तपस्वी का बहुमान करते।

--------------------------

यज्ञ में 200 लोगों को मांस व शराब छोड़ने का दिलाया संकल्प

मनावर। गायत्री परिवार द्वारा ग्राम अजंदीमान में 30 घरों में यज्ञ के माध्यम से 200 लोगों को व्यसन मुक्त होने के संकल्प के साथ पौधारोपण कर पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने का संकल्प दिलाया। गायत्री परिवार के गिरधारीलाल मालवीय ने बताया कि गंधवानी, अवल्दा, अजंदा, सिंघाना व मनावर के सदस्यों ने ग्राम में 30 घरों में संकल्प मुक्ति यज्ञ कर 200 लोगों को मांस व शराब छोड़ने का संकल्प दिलाया। डॉ. धन्नालाल पाटीदार द्वारा ग्रामीणों को इनके दुष्परिणामों से अवगत कराकर मांस व व्यसन छोड़ने का संकल्प दिलाया गया। ग्राम में पौधारोपण कर पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने की समझाइश दी। शपथ भी दिलाई गई। प्रतापसिंह अंचल, अशोक वर्मा, विजय सोलंकी, मोतीलाल महतो, मोहन अलावा, सुरेश कु शवाह आदि का सहयोग रहा।

फोटो16एमएनआर18--- कार्यक्रम को संबोधित करते अतिथि।

..................................

55 जनसेवकों का पंजीयन

मनावर। मप्र राज्य सफाई कर्मचारी आयोग के निर्देशानुसार नगर पालिका द्वारा मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजनांतर्गत रविवार को विशेष शिविर का आयोजन वाल्मीकि बस्ती में कि या गया। शिविर में योजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई तथा 55 जनसेवकों के परिजनों का पंजीयन कि या गया। पार्षद कांतिलाल सोलंकी, योजना प्रभारी सुनील खरे, मनीष परमार, पंकज सोलंकी, मनीष सारण, योग मित्र उपाध्याय आदि का सहयोग रहा।