लीड खबर का बॉक्सः

दस साल में नहीं बना ट्रिचिंग ग्राउंडः

शहर से रोजाना निकल रहे 35 टन कचरे के उचित निपटान हेतु सबसे अहम जरूरत ट्रिचिंग ग्राउंड की है, लेकिन दस सालों में नपा जमीन मिलने के बावजूद स्थाई ठौर नहीं तलाश सकी है। आज भी शहर का कचरा न्यास कॉलोनी बायपास पर डंप हो रहा है। पहले बाईखेड़ी तो फिर जिलवानी में जगह मिलने का दावा किया गया, इस प्रोजेक्ट का पैसा भी नपा के खाते में पड़ा हुआ है, लेकिन जगह फाइनल नहीं हुई। अधिकारी बताते हैं कि होशंगाबाद क्लस्टर में जुड़ने से अब धर्मसंकट हो गया है कि जिलवानी में प्लांट लगाया जाए या नहीं। क्लस्टर के लिए बाबई में जगह तय हुई है लेकिन प्रोजेक्ट आज तक शुरू नहीं हुआ।

-------

बुजुर्गो से छात्राओं ने कहा गर्मी में रखना सेहत का ख्याल

छात्राओं ने किया वृद्घाश्रम का भ्रमण

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय की गृहविज्ञान व समाजशास्त्र विषय की 40 छात्राओं व प्राध्यापकों ने न्यास कॉलोनी स्थित अपना घर वृद्घाश्रम में पहुंचकर वहां रह रहे वृद्घजनों से भेंट की। छात्राओं ने उन्हें ग्रीष्म ऋतु में स्वस्थय रहने हेतु आवश्यक सावधानियों व पोषण से संबंधित जानकारी देने के साथ फल, बिस्किट, रूमाल भेंट किए। छात्राओं ने बुजुर्गों से बातचीत कर उनके जीवन की तकलीफों पर चर्चा की तथा बुजुर्गों ने भी कॉलेज की छात्राओं के अपनेपन को देखते हुए खुलकर अपने जीवन की समस्या उनसे साझा की। प्राचार्य डॉ. कुमकुम जैन, डॉ. व्ही. के. राणा, श्रीमती मंजरी अवस्थी, मीनाक्षी कोरी, डॉ. संजय आर्य, सुषमा चौरसिया, सोनम शर्मा, कामधेनु पटोदिया, सरिता मेहरा, चारू तिवारी, महेन्द्रिका मालवीय, हेमंत गोहिया, राजेश कुशवाह एवं स्टॉफ मौजूद था।

फोटो नेम.. 14 आईटी 05

इटारसी। बुर्जुगों के साथ छात्राओं ने कई विषयों पर चर्चा की।

-------

तापमान बढ़ते ही भभक रहे ट्रांसफार्मर, घटिया उपकरणों का खामियाजा भोग रहे उपभोक्ता

पुरानी इटारसी और खेड़ा में जले ट्रांसफार्मर, ठप रही सप्लाई

इटारसी। तापमान में बढ़ोतरी और सूर्यदेव के सुलगते ही शहर के बिजली ट्रांसफार्मर फुंक रहे हैं। बुधवार को दो घंटे के भीतर खेड़ा औद्योगिक क्षेत्र और पुरानी इटारसी टीव्हीएस शोरूम के सामने लगे ट्रांसफार्मर में आग लग गई। आग लगने की खबर लगते ही तत्काल बिजली अधिकारियों ने पूरे इलाके की सप्लाई बंद की और जल रहे ट्रांसफार्मर की आग बुझाकर मेंटनेंस किया। अफसर सफाई दे रहे हैं कि गर्मी की वजह से ऐसा होता है, लेकिन हकीकत में यह हालात घटिया कंपनी के कमीशनखोरी वाले ट्रांसफार्मर एवं उपकरण लगने की वजह से हुआ है।

जानकारी के अनुसार सुबह करीब 7 बजे पुरानी इटारसी हाऊसिंग बोर्ड तिराहे के आगे के ट्रांसफार्मर से आग की लपटें उठने लगीं, इसके बाद नौ बजे खेड़ा औद्योगिक क्षेत्र के ट्रांसफार्मर में आग लग गई। दो जगह आग भड़कने से अफसरों में भी हड़कंच मच गया। तत्काल मेंटनेंस टीम मौके पर भेजकर सप्लाई बंद की गई। इस वजह से दोनों इलाकों में दोपहर तक बिजली सप्लाई ठप रही। सूत्रों के अनुसार लोड बढ़ने की वजह से घटिया क्वालिटी के ट्रांसफार्मर दम ता़ेड रहे हैं और इनमें आग लग रही है।

हो सकता है हादसाः

रिहायशी इलाकों में इस तरह ट्रांसफार्मर के आग लगने से बड़ी जनहानि से भी इंकार नहीं किया जा सकता, अधिकारी खुद मानते हैं कि इस तरह की आग से करंट फैलने या आग लगने का खतरा हो सकता है, कई बार ट्रांसफार्मर ब्लास्ट भी हो जाते हैं। आने वाले दिनों में गर्मी अपने तीखे तेवर दिखाएगी, ऐसे हालात में शहर की विद्युत व्यवस्था पर भी असर पड़ सकता है। अधिकारी कहते हैं कि दो घटनाओं के बाद अब अत्याधिक दाब झेलने वाले उपकरणों का मेंटनेंस कराया जाएगा।

जांच कराएंगेः

दो ट्रांसर्फार में लोड एवं तापमान बढ़ने की वजह से आग लग गई थी। दो घंटे दोनों जगह सप्लाई बाधित रही। ट्रांसफार्मर घटिया क्वालिटी के नहीं हैं, हम सभी मशीनों की जांच करा रहे हैं।

वैभव मिश्रा, जेई मप्रमक्षेविविकं।

फोटो नेम.. 14 आईटी 06-07

इटारसी। इस तरह शहर के ट्रांसफार्मर में आग लगने से हड़कंप मच गया।

-----