गुना। रेलवे स्टेशन के यार्ड में रविवार दोपहर को सीमेंट की बोरियां उतारते समय मालगाड़ी की एक बैगन पलट गई। इसमें छह मजदूर घायल हो गई, इनमें से दो की हालत गंभीर है। जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि, अभी कोई भी रेलवे अधिकारी घटना की वजह नहीं बता पा रहा। अधिकारी भी जांच के बाद ही स्थिति साफ होने की बात कर रहे हैं।

रविवार दोपहर सीमेंट से लदी मालगाड़ी की बैगन से मजदूर सीमेंट की बोरियां उतार रहे थे। इसी दौरान एक बैगन अचानक पलट गई। जिससे सीमेंट की बोरियां उतार रहे राजा सहरिया निवासी जगनुपर, दौलत सिंह निवासी श्रीराम कॉलोनी, बृजेंद्र सहरिया निवासी कंचनपुरा, राजा सहरिया हड्डी मिल, पहलवान सिंह कंचनपुरा और बलराम सहरिया कंचनपुरा बैगन में फंस कर घायल हो गए। बैगन की चपेट में तार आने से बिजली का खंभा टेढ़ा होने के साथ ही शार्ट सर्किट हो गया। इससे करंट की अफवाह फैल गई और मजदूरों में अफरा-तफरी मच गई।

केवल 200 बोरी रह गई थीं

बताया जाता है कि मालगाड़ी की जो बैगन अचानक पलटी, उसमें 1400 सीमेंट बोरी थीं, जिनमें से 1200 सीमेंट बोरी मजदूरों ने उतार ली थी। बैग में करीब 200 बोरी बची थीं, जिन्हें उतारने मजदूर काम कर रहे थे। तभी अचानक तेज आवाज के साथ बैगन के पहिए और चेसिस पटरी पर रह गए व ऊपर की बॉडी पलट गई। मजदूरों ने बताया कि डिब्बा जिस तरफ पलटा, उस तरफ के गेट बंद थे अन्यथा जनहानि भी हो सकती थी। मजदूरों ने यह भी बताया कि डिब्बे की चपेट में आए बिजली तार भी डिब्बों पर नहीं गिरे, वरना पूरी मालगाड़ी में करंट फैलने से बड़ा हादसा हो सकता था।

सीएनडब्ल्यू के अधिकारी करेंगे जांच

मैं किसी काम से भोपाल में हूं। घटना की जानकारी मिली है। गुना आकर मौका निरीक्षण कस्र्गा। हादसा कैसे हुआ इसका साफ कारण तो जांच के बाद ही मालूम हो पाएगा। सीएनडब्ल्यू विभाग (केरी एंड वेगन) के वरिष्ठ अधिकारियों की कमेटी मामले की जांच करेगी।

- बीडी अहिरवार, एईएन गुना