बॉटम

एक्ट में जब तक संशोधन नहीं होता, तब तक चलेगा धरना

- एससी/एसटी एक्ट के विरोध में सर्व सामाज के युवाओं ने शुरू किया धरना-प्रदर्शन

गुना। नवदुनिया प्रतिनिधि

सरकार ने एससी/एसटी में पुनः संशोधन करके हम सर्व समाज के लोगों के साथ अन्याय किया है। इसलिए सरकार को इस एक्ट में फिर से संशोधन कर सुप्रीम कोर्ट का पालन करना चाहिए। जब तक सरकार इस एक्ट में संशोधन नहीं करती, तब तक हमारा धरना-प्रदर्शन चलता रहेगा। यह बात शुक्रवार को हनुमान चौराहा पर पीएचई गेट के पास धरने पर बैठे सर्व समाज के युवाओं ने कही। एससी/एसटी एक्ट में संशोधन कराने की मांग को लेकर सर्व समाज के युवाओं ने शुक्रवार से शहर में अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। यह प्रदर्शन सुबह 11 बजे से शुरू किया गया है। इसमें शामिल युवाओं ने कहा कि अध्यादेश पारित कर सरकार यह काला कानून लाई है। देश भर में इसका विरोध किया जा रहा है, फिर भी न जाने किस दबाव के कारण इसे अब तक वापस नहीं लिया गया। हम लोग भी अपना प्रदर्शन संवैधानिक तरीके से कर रहे हैं, यह तब तक चलेगा, जब तक कि एससी/एसटी एक्ट में संशोधन नहीं कर दिया जाता। सरकार को हमारी मांग मानने के लिए मजबूर होना ही पड़ेगा।

एससी/एसटी एक्ट के विरोध में शुरू करेंगे हस्ताक्षर अभियान

धरना-प्रदर्शन कर रहे युवाओं ने बताया कि गुना जिले में हम सभी युवा मिलकर हस्ताक्षर अभियान भी चलाएंगे। इस अभियान की शुरूआत शहर से होगी, जिसमें एससी/एसटी एक्ट के विरोध में लोग अपने-अपने हस्ताक्षर करेंगे। साथ ही, मांग करेंगे कि एक्ट में संशोधन किया जाए।

फोटो-

1409जीएन-05, गुना। धरना-प्रदर्शन करते हुए सर्व समाज के युवा।