ग्वालियर। मौसम में आए बदलाव ने शहरवासियों के लिए बीमारी का खतरा बढ़ा दिया है। स्वाइन फ्लू से दो मरीजों की मौत हो चुकी है, एक दिल्ली में गंभीर हालत में भर्ती है। इसी बीच एक मरीज को स्वाइन फ्लू पॉजीटिव होने की खबर स्वास्थ्य विभाग को मिली है। हालांकि जांच रिपोर्ट देखने के बाद स्वास्थ्य विभाग वायरल फीवर बता रहा है। खास बात ये है कि बारिश के कारण नमी बढ़ गई है, जिससे डेंगू का खतरा भी मंडराने लगा है।

शनिवार को एक डेंगू पॉजीटिव केस सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। स्वाइन फ्लू के कारण दो लोगों की मौत हो चुकी है। बीएसएफ से दो मरीज दिल्ली में उपचार करवा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम गुड़ी गुढ़ा नाका स्थित मृतक के निवास पर पहुंची तो वहां परिवार के एक सदस्य को सर्दी, जुकाम, बुखार की शिकायत मिली थी।

रोगी को जेएएच में चेकअप कराने की सलाह दी गई है। इसी बीच लाला के बाजार से 40 वर्षीय महिला को दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। परिजनों के मुताबिक डॉक्टरों ने स्वाइन फ्लू बताया है। इसकी सूचना परिजनों ने सीएमएचओ डॉ मृदुल सक्सेना को भी दी है। हालांकि जांच रिपोर्ट के आधार पर सीएमएचओ का कहना है कि महिला को सामान्य वायरल फीवर है। जबकि परिजनों का कहना है कि मरीज को सांस लेने में दिक्कत एवं बुखार के कारण अस्पताल में भर्ती किया गया था।

वर्तमान में महिला वेंटिलेटर पर है। ऐसे में जब तक सर गंगाराम अस्पताल से अधिकारिक रूप से रिपोर्ट नहीं आती है कुछ भी कहना मुश्किल है। सीएमएचओ ने परिजनों को भरोसा दिलाया है कि वह सोमवार को टीम को उनके निवास पर भेजेंगे।

डेंगू ने बढाई टेंशन

जब तापमान 20 डिग्री से कम एवं 40 डिग्री से अधिक हो तो एडीज मच्छर पनप नहीं पाता है। ऐसे में डेंगू फैलने की आशंका बिल्कुल नहीं होती है। मगर वर्तमान में तापमान में आ रहे उतार चढ़ाव, बीच में हुई बारिश के कारण नमी बढ़ने से एक बार फिर मच्छर बढ़ गए हैं। इसी बीच एक पचौर गांव के कैलाश पुत्र कमलेश के डेंगू पॉजीटिव आने से जिला मलेरिया विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। मलेरिया विभाग की टीम जांच कर रही है कि मरीज कहीं दूसरे शहर से तो नहीं लौटा है। साथ ही मरीज के घर के आसपास सर्वे भी किया जाएगा, जिससे यदि डेंगू का लार्वा कहीं पनप रहा है तो उसे नष्ट किया जाएगा।

आज भेजेंगे टीम

महिला की रिपोर्ट एक्सपर्ट ने देखी है, इसमें वायरल फीवर है। परिजनों से बात हुई थी तो हमने टीम को सोमवार को भेजने की बात कही है। डेंगू को लेकर जिला मलेरिया विभाग की टीम को जांच के लिए कहा गया है। जिससे सर्वे कर पता लगाया जा सके कि कहीं आसपास डेंगू का लार्वा तो नहीं पनप रहा है। साथ ही मरीज कहीं दूसरे शहर से भी आया हुआ हो सकता है।

-डॉ. मृदुल सक्सेना, सीएमएचओ