Naidunia
    Wednesday, April 25, 2018
    PreviousNext

    रहे सावधान : युवक के हाथ पर 'कुछ' लगाया, सम्मोहित कर गायब कर दिए 35 हजार नगद

    Published: Mon, 12 Mar 2018 03:51 AM (IST) | Updated: Mon, 12 Mar 2018 02:20 PM (IST)
    By: Editorial Team
    vaardat 2018312 141924 12 03 2018

    ग्वालियर। अगर आप बैंक में कैश जमा कराने कतार में खड़े हैं तो सतर्क हो जाईए। कोई आपकी रकम चोरी कर सकता है। बैंक में कैश जमा करने आए युवक को दो अन्य युवक मिले। पहले उन्होंने कैश जमा करने वाली स्लिप के बारे में पूछा। बात करते-करते एक युवक ने पैसा जमा कराने आए युवक के हाथ पर कुछ लगाया और बात करने के लिए बैंक से बाहर ले गए। इसके बाद युवक को कुछ याद नहीं है 10 मिनट बाद जब होश आया तो पेंट की दोनों जेब से 35 हजार रुपए निकल चुके थे। घटना 7 मार्च दोपहर 1.30 बजे एसबीआई तानसेन नगर ब्रांच की है। घटना के बाद पीड़ित ग्वालियर और हजीरा थानों के बीच परेशान होता रहा। सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत की। तब जाकर ग्वालियर थाना पुलिस ने उसकी शिकायत पर मामला दर्ज किया है।

    हजीरा चार शहर का नाका गदाईपुरा निवासी 48 वर्षीय द्वारिका प्रसाद पुत्र नाथूराम अहिरवार पेशे से मिस्त्री हैं। साथ ही वह छत ढलाई का ठेका लेते हैं। एक पार्टी से पैमेंट मिला था जिसे कुछ दिन बाद मजदूरों को बांटना था। जिस पर 7 मार्च को द्वारिका प्रसाद 10-10 हजार की तीन गड्डी और 5 हजार रुपए अलग जेबों में रखकर तानसेन नगर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में जमा कराने आए थे। जब वह कैश जमा की स्लिप भर रहे थे। तभी एक युवक जो हरे रंग की शर्ट पहने था उनके पास आया। पहले उनसे कैश जमा के लिए स्लिप कहां मिलेगी पूछा। इसके बाद स्लिप लेकर उनसे ही भरने के लिए कहा।

    सम्मोहित कर दिया

    इसी समय एक और युवक जो सफेद रंग की शर्ट पहने था। वह भी वहां आ गया और स्लिप भरने के लिए उनसे कहने लगा। इस पर द्वारिका ने कहा कि पहले मैं अपने पैसे जमा कर दूं फिर आपकी स्लिप भी भर दूंगा। इसी समय एक युवक ने द्वारिका के हाथ पर कुछ लगाया और कहा जरा बाहर आओ आपसे कुछ पूछना है। इसके बाद वह उनकी बात मानता गया। इसके बाद उसे कुछ याद नहीं है करीब 10 से 15 मिनट बाद जब वह वापस ठीक हुआ तो देखा कि उसकी जेब से 35 हजार रुपए चोरी हो चुके थे और बाइक की चाबी भी बदमाश ले गए थे। पहले तो वह घबरा गया। इसके बाद घर पर फोन कर बड़ी बेटी और पत्नी को सारी बात बताई। संभवतः युवक को सम्मोहित कर पूरी घटना को अंजाम दिया गया।

    बैंक ने नहीं दिखाए फुटेज, कहा पुलिस लेकर आओ

    घटना के बाद पीड़ित वापस अंदर बैंक पहुंचा और बताया कि उसके साथ घटना हुई है। दो ठग उसे यहां से बाहर ले गए और 35 हजार रुपए निकालकर ले गए हैं। उसने बैंक को फुटेज दिखाने के लिए भी कहा, लेकिन बैंक ने पुलिस के साथ आने के लिए कहा।

    सीमा विवाद में उलझी पुलिस

    घटना के बाद पीड़ित जब ग्वालियर थाने पहुंचा तो वहां से पुलिस ने मामला हजीरा क्षेत्र का होने पर हजीरा थाने को कहा। जब वह हजीरा थाने पहुंचा तो वहां पुलिस ने समझाया कि बैंक का एरिया ग्वालियर थाना क्षेत्र में है। इसके बाद पीड़ित ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की। जिस पर ग्वालियर थाने में मामला दर्ज किया गया।

    यह था ठगों का हुलिया

    द्वारिका प्रसाद के अनुसार दोनों युवकों की उम्र 25 से 30 साल के बीच थी। दोनों कद-काठी से सामान्य थे। एक युवक हरी शर्ट पहने था। सांवला था तो दूसरा सफेद शर्ट पहने था और रंग साफ था। जो सफेद रंग की शर्ट पहने था उसकी शर्ट का ऊपर का बंटन खुला था और सीने पर जले का निशान भी था। पुलिस इसी आधार पर युवक की जांच कर रही है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें