ग्वालियर। बेला का बाबड़ी स्थित सिद्ध बाबा मंदिर के पास कार की टक्कर से ऑटो पलट गई। ऑटो में सवार रजनी पाल के की गोद से एक साल के बेटी तान्या सड़क पर जाकर गिरी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बच्ची के माता-पिता, मामा-मामी घायल हो गए। कंपू थाना पुलिस हादसे की जांच कर रही है।

पनिहार थाना क्षेत्र के ग्राम रायपुर खुर्द निवासी राजू पाल की मोबाइल शॉप है। रविवार रात को वह पत्नी रजनी पाल, विष्णु पाल, प्रीति पाल व रानी पाल के साथ वीरपुर निवासी रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में शामिल होने ऑटो से जा रहे थे। रजनी की गोद में एक साल की बेटी तान्या थी। रात 8 बजे के लगभग बेला की बाबड़ी स्थित सिद्ध बाबा मंदिर के पास ग्वालियर से शिवपुरी रोड़ की तरफ तेज गति से जा रही कार ने एक अन्य गाड़ी को बचाने के प्रयास में ऑटो में टक्कर मार दी।

कार की टक्कर से ऑटो फिरकी की तरह घूमकर पलट गई। झटके से रजनी पाल की गोद से तान्या छिटकर सड़क पर जा गिरी और अचेत अवस्था में आ गई। वहीं प्रीति के हाथ व पैर में फ्रेक्चर हो गया। रजनी व विष्णु पाल भी घायल हो गए। मौके पर मौजूद लोगों ने घायलों को किसी तरह से इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल कराया। ऑटो में सवार विष्णु पाल ने बताया कि मौके पर ही बच्ची की सांसे थम गईं थीं। उम्मीद के साथ बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बच्ची की मौत से मां बेसुध हुई

एक साल की इकलौती तान्या पूरे घर की लाड़ली थी। मां तो उसे जान से ज्यादा चाहती थी। बच्ची के अचेत होने के बाद से ही रजनी की हालत खराब थी। अपनी चोटों को भूलकर वो तान्या को होश में लाने का प्रयास कर रही थी। भाई से कह रही थी, किसी तरह से मेरी बच्ची को बचा लो। अस्पताल में डॉक्टर द्वारा तान्या को मृत घोषित करते ही मां अचेत हो गई। पुलिस ने मौके से कार को जब्त कर चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।