ग्वालियर। ग्वालियर इंदौर इंटरसिटी को झांसी से चलाने का फैसला रेलवे ने बदल दिया है। अब झांसी से 12 कोचों की झांसी-ग्वालियर-इटावा लिंक एक्सप्रेस चलेगी। जिसके 4 कोच ग्वालियर में इंदौर इंटरसिटी से जोड़ दिए जाएंगे और शेष आठ कोच के साथ ट्रेन इटावा के लिए रवाना हो जाएगी। इससे झांसी को इंदौर के लिए लिंक एक्सप्रेस मिल गई और ग्वालियर को झांसी-इटावा के लिए नई ट्रेन।

गुरुवार 1 सितम्बर को इसका उद्घाटन रेल मंत्री सुरेश प्रभु और केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती रेल भवन से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा करेंगे। समारोह दोपहर 2.30 बजे होगा। इसी दौरान ट्रेन झांसी से ग्वालियर के लिए रवाना होगी। ग्वालियर में भी इटावा के लिए इस ट्रेन को जनप्रतिनिधि और रेलवे अधिकारी हरी झण्डी दिखाएंगे।

इस तरह रहेगा शेड्यूल

झांसी से 12 कोच की झांसी-ग्वालियर-भिंड-इटावा(11801) लिंक एक्सप्रेस चलेगी। झांसी से शाम 5.25 पर रवाना होगी और ग्वालियर पहुंचेगी शाम 7 बजे। शाम को ग्वालियर पहुंचने के बाद इस ट्रेन के चार कोच अलग कर सोमवार, मंगलवार, गुस्र्वार, शुक्रवार को ग्वालियर-इंदौर इंटरसिटी में जोड़ दिए जाएंगे। इसमें एक एसएलआर, एक थर्ड एसी और दो स्लीपर कोच रहेंगे। इसके बाद इंदौर इंटरसिटी रवाना हो जाएगी। वहीं लिंक एक्सप्रेस आठ कोचों के साथ शाम 7.15 बजे इटावा के लिए रवाना हो जाएगी।

रात 10.45 बजे लिंक एक्सप्रेस इटावा पहुंचेगी। रातभर इटावा स्र्कने के बाद आठ कोचों के साथ ही लिंक एक्सप्रेस सुबह 4.30 बजे ग्वालियर के लिए रवाना होगी। सुबह 7.50 पर ग्वालियर पहुंचेगी। इसी समय इंदौर इंटरसिटी ग्वालियर पहुंचेगी। इसमें से लिंक एक्सप्रेस के चार कोच निकालकर इटावा से आई लिंक एक्सप्रेस में जोड़ दिए जाएंगे। फिर 12 कोच के साथ लिंक एक्सप्रेस झांसी के लिए रवाना हो जाएगी। वहीं बुधवार और रविवार को झांसी से इटावा के लिए लिंक एक्सप्रेस दस कोच के साथ चलेगी।

देर रात रेल भवन से आया फरमान

झांसी-ग्वालियर-इटावा लिंक एक्सप्रेस चलाने का फरमान देर रात रेल भवन से आया। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक इंदौर इंटरसिटी को झांसी ले जाने को लेकर हो रहे विरोध और झांसी से इंदौर के लिए की जा रही मांग के चलते यह बीच का रास्ता बुधवार शाम को निकाला गया। इसके बाद रात 10.30 बजे रेलवे अधिकारियों को इस नई ट्रेन के संचालन से संबंधित सर्कुलर जारी हुआ और गुस्र्वार को तैयारियां करने का आदेश दे दिया गया।