ग्वालियर। पुलिस चेकिंग में पकड़ी एक बाइक को चोर पुलिस अधिकारियों के सामने से चोरी कर ले गए। घटना मंगलवार शाम एसपी ऑफिस के पास पटेल नगर प्वाइंट की है। घटना उस समय हुई जब बाइक पुलिस की निगरानी में छोड़कर युवक चालान के लिए एटीएम से कैश निकालने गया था। सिर्फ 5 मिनट में पूरी वारदात हो गई। पीड़ित ने बाइक चोरी और ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की लापरवाही की शिकायत की है।

फूलबाग मरीमाता महलगांव निवासी राकेश जाटव बैनर होर्डिंग्स लगाने काम करता है। मंगलवार शाम उसे सिटीसेंटर में एक ठेकेदार से अपना पैमेंट लेना था। ठेकेदार से पैमेंट लेने वह अपने दोस्त के साथ बाइक क्रमांक एमपी07 एमसी-8935 पर सवार होकर सिटी सेंटर के लिए निकला था।

अभी एसपी ऑफिस के पास पटेल नगर पर पहुंचे ही थे कि ट्रैफिक पुलिस के एक एएसआई व सिपाही चेकिंग कर रहे थे। उन्होंने राकेश को रोक लिया। दस्तावेज दिखाने को कहा तो उसने दिखा दिए। पर उसके पास हेलमेट नहीं था। जिस पर उन्होंने गाड़ी पास ही रखवा दी। वहां और भी बाइक रखी थीं जो उन्होंने पकड़ी थी।

इसके बाद पुलिस कर्मियों ने हेलमेट नहीं होने पर 250 रुपए का चालान कटवाने के लिए कहा। राकेश के पास कैश नहीं था। वह 5 मिनट में लौटने की कहकर एटीएम की तलाश में निकल गया। साथ में उसका दोस्त भी था। 5 मिनट बाद वह कैश निकालकर पहुंचे तो देखा कि उनकी बाइक वहां नहीं है। पुलिस कर्मियों से पूछा तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। न ही बाइक होने की बात कबूली। इसके बाद पीड़ित ने हंगामा खड़ा कर दिया। जिस पर पुलिसकर्मी वहां से निकल गए। पीड़ित ने मामले की शिकायत विश्वविद्यालय थाना प्रभारी को लिखित में की है।

पुलिस कर्मियों पर संदेह

पीड़ित का आरोप है कि जब उसकी बाइक पुलिस ने पकड़ी थी तो उनकी जिम्मेदारी होनी चाहिए। मौके पर खड़े ट्रैफिक पुलिस के दरोगा और सिपाही पर उसे संदेह है। उन्होंने उसकी बाइक खुर्दबुर्द की है।