ग्वालियर, नईदुनिया विशेष। फिल्म स्टार की तरह बॉडी बनाने की चाहत में युवा कई तरह की बीमारियों को आमंत्रण दे रहे हैं। कम समय में आमिर व सलमान की तरह बॉडी बनाने के लिए युवा हेल्थ प्रोडक्ट (प्रोटीन) का सेवन कर रहे हैं। जो शुरू में तो शरीर में वजन बढ़ाने का काम करते हैं। जिससे युवाओं की बॉडी तो बनती है लेकिन कुछ समय बाद ही इन प्रोडक्टों के साइड डिफेक्ट भी देखने को मिलते हैं। लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी होती है और हेल्थ प्रोडक्ट का सेवन करने वाले युवा कई तरह की बीमारियों से ग्रस्त हो चुके होते हैं। इन प्रोडक्ट के सेवन से किडनी, लीवर, हृदयघात व चर्म रोग जैसी गंभीर बीमारियां जन्म ले लेती हैं। इस तरह के कई उदाहरण सामने आए हैं।

जिम ट्रेनर की सलाह पर लेते हेल्थ प्रोडक्ट

पिछले कुछ समय से युवाओं में बॉडी बनाने की चाहत बढ़ी है। जिम ज्वाइन करते ही वह माह दो माह में ही बॉडी बनाना भी चाहते हैं। बस इसी बात का फायदा हेल्थ प्रोडक्ट बनाने वाली ढेरों कंपनियां उठा रही हैं। इनके एमआर जिम ट्रेनर से संपर्क कर अपना प्रोडक्ट प्रमोट कराते हैं। जिम ट्रेनर के सुझाव पर युवा हेल्थ प्रोडक्ट का सेवन शुरू कर देते हैं। जबकि हेल्थ प्रोडक्ट डॉक्टर की सलाह पर ही लेना चाहिए।

तेजी से बढ़ा हेल्थ प्रोडक्ट का बाजार

अब युवा अपनी फिटनेस पर अधिक ध्यान देने लगे हैं। जिसके चलते हेल्थ प्रोडक्ट की सेल में काफी तेजी आई है। पिछले कुछ सालों का आंकड़ा देखें तो यह व्यापार 200 गुना बढ़ा है। शहर में हर माह करीब 20 से 30 लाख की सेल हो रही है।

क्यों आवश्यक होता है प्रोटीन

जिम में वर्क आउट करने वालों को मसल्स बनाने के लिए अतिरिक्त प्रोटीन की आवश्यकता होती है। ऐसे में एक ग्राम प्रति किलो के हिसाब से एक शरीर को प्रोटीन की आवश्यकता होती है जब इसकी पूर्ति खाद्य पदार्थों से नहीं होती तब डॉक्टर की सलाह पर हेल्थ प्रोडक्ट के माध्यम से प्रोटीन ली जा सकती है।

देखपरख कर लें हेल्थ प्रोडक्ट

मार्केट में सैकड़ों कंपनियों के हेल्थ प्रोडक्ट आ रहे हैं। इन प्रोडक्टों में प्रोटीन के साथ क्रेटीन, अमीनो एसिड, एनावॉलिक स्टोरिड आदि होता है। डॉक्टर बताते हैं कि प्रोटीन को छोड़कर बाकी सभी सेहत के लिए हानिकारक होते हैं। जो कंपनियां डब्ल्यूएसओ या आईएसओ सर्टीफाइड हैं उन्हीं के प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए। हालांकि कुछ वे-प्रोटीन व एनीमल प्रोटीन अच्छे हैं। लेकिन इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह आवश्यक है।

शरीर में इन्फेक्शन व लीवर में सूजन आ गई

करन (काल्पनिक नाम) बताते हैं कि आमिर खान की बॉडी देख मैं भी बॉडी बनाने नया बाजार स्थित जिम में जाने लगा। वहां पर ट्रेनर के सुझाव पर हुजरात पुल से प्रोटीन के पैकेट खरीद लाया। तीन माह में करीब 8 किलो प्रोटीन खा लिया होगा। बॉडी तो अच्छी बन गई लेकिन कई तरह के शरीर में इन्फेक्शन हो गए। पहले तो दबा लेता रहा लेकिन बाद में जब जांच करवाईं तो पता चला कि लीवर में ही सूजन आ गई। इसके बाद हेल्थ प्रोडक्ट लेना बंद कर दिया अब इलाज ले रहा हूं।

जिम ट्रेनर की सलाह पर युवा जल्दी बॉडी बनाने के लिए हेल्थ प्रोडक्ट का सेवन करने लगते हैं। लेकिन कुछ समय बाद यह हेल्थ प्रोडक्ट अपना असर दिखाना शुरू कर देते हैं। जिससे किडनी, लीवर व हृदय संबंधी बीमारियां घेर लेती हैं। हेल्थ प्रोडक्ट लेने वाले युवाओं में तेजी से बीमारियां बढ़ रही हैं। - डॉ. मनीष शर्मा, सहायक प्राध्यापक मेडीसिन विभाग

शहर में ढेरों कंपनियां हेल्थ प्रोडक्ट बेच रही हैं। इनके सेवन करने से युवा बीमार हो रहे हैं। कुछ समय के लिए शरीर तो बनता है लेकिन आगे चलकर यह शरीर के लिए बेहद खतरनाक साबित होते हैं। ऐसे में हेल्थ बनाने की चाह रखने वाले युवाओं को शाकाहारी या मासाहारी भोजन से ही प्रोटीन की मात्रा बढ़ानी चाहिए। - डॉ. संजय धवले, प्रोफेसर मेडीसिन विभाग जीआरएमसी