इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

तुकोगंज थाने में 1 फरवरी को ड्राइवर निखिल लालवानी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि शशि शर्मा की स्विफ्ट डिजायर कार किसी ने चुरा ली है। पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर कार के साथ आकाश पिता अशोक शर्मा निवासी बाहुबली नगर, गांधी नगर क्षेत्र से पूछताछ की। आकाश ने बताया कि उसने दोस्त राजेश गुर्जर निवासी खलघाट से कार खरीदी है। राजेश से पूछताछ में पुलिस को पता चला कि 19 साल के तन्मय पिता दिलीप ठाकुर निवासी स्मृति नगर ने उसे कार बेची है। तन्मय से पूछताछ की तो उसने पुलिस को बताया कि उसने शशि शर्मा व उसके बेटे अमित शर्मा के साथ मिलकर चंदन नगर क्षेत्र में एक हत्या की थी। उसके बदले शशि शर्मा ने उसे रुपए देने की बात कही थी। जब उन्होंने रुपए नहीं दिए तो मैंने कार चुराकर दोस्त राजेश गुर्जर को बेच दी थी। बाद में राजेश ने कार अपने दोस्त आकाश शर्मा को गिरवी रख दी थी। मामले में पुलिस ने आरोपी आकाश शर्मा और तन्मय ठाकुर को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया है।