इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बायपास से शहर की नदी और तालाबों को जोड़ने वाली पानी की 10 से ज्यादा चैनल जगह-जगह से अवरुद्ध हो गई है। कहीं एनएचएआई (नेशनल हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया) के काम के कारण पुल-पुलियाओं के नीचे मिट्टी और मलबा भर दिया गया है तो कहीं कचरे के कारण चैनल अवरुद्ध हो गई है। कहीं-कहीं पुलियाओं के नीचे बड़ी मात्रा में कचरा भरा हुआ है, जिससे स्वाभाविक रूप से पानी का बहाव अवरुद्ध होगा और नदी और तालाब में बरसाती पानी नहीं जा पाएगा।

रविवार को नगर निगम जलकार्य समिति प्रभारी बलराम वर्मा ने अफसरों के साथ रालामंडल से राऊ के बीच छोटी-छोटी चैनलों की स्थिति देखी। पुलियाओं के आसपास और नीचे जगह-जगह फैले पड़े कचरे को हटाने के लिए उन्होंने निगम के अपर आयुक्त रजनीश कसेरा को फोन कर सफाई करने के निर्देश दिए। प्रभारी ने बताया कि देवगुराड़िया क्षेत्र में सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप के आसपास चैनल पर बैरिकेडिंग कर ली गई है। वहां खान नदी की चैनल बनी हुई है। अधिकारियों को चैनल साफ करने के निर्देश दिए हैं। बायपास पर तेजाजी नगर के पास निर्माणाधीन माहेश्वरी समाज के भवन भराव कर नाले का मुंह मोड़ दिया गया है। अफसरों को कहा गया कि वे संबंधितों से अपना मलबा हटाने को कहें। प्रभारी ने निगम के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर संजीव श्रीवास्तव और एसके कुरील को कहा कि वे एनएचएआई को चिट्ठी लिखकर उनसे बायपास के पुल-पुलियाओं के भीतर और आसपास पड़े मलबे और मिट्टी को हटाने का काम करवाएं। श्रीवास्तव ने बताया कि शहर के नदी-तालाबों को भरने वाली चैनल और ड्रेन में 10 से 15 जगह परेशानी है, जिनसे बरसाती पानी के बहाव में बाधा पैदा होगी। सफाई करवाकर उन्हें पानी बहने लायक बनाया जाएगा, ताकि बरसाती पानी नदियों और तालाबों में आ सके।