इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। हिमाचल व कश्मीर की बर्फबारी के कारण इंदौर में चौथा दिन भी कोल्ड डे रहा। सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 22 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से 5 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान में सामान्य से एक डिग्री गिरावट बरकरार रही और तापमान 9.6 डिग्री दर्ज किया गया। हवा की रफ्तार 18 किलोमीटर प्रति घंटा रही। इससे दिन में धूप निकलने के बावजूद ठंडक का असर बना हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक एक-दो दिन में शहर में काफी ऊंचाई पर बादल रह सकते हैं। इसके कारण तापमान में कुछ हद तक बढ़ोतरी हो सकती है।

तापमान में गिरावट आने और उत्तर व उत्तर-पूर्वी बर्फीली हवा के कारण तीन दिन से शहर में शीतलहर का अहसास हो रहा है। मंगलवार को भी शहर में शीतलहर के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी में उठ रहे चक्रवात और तूफान का सीधा असर इंदौर के मौसम पर नहीं पड़ेगा, लेकिन अनूपपूर, शहडोल, सिंगरौली, मंडला, उमरिया, सिवनी, बालाघाट, डिंडौरी, जबलपुर व होशंगाबाद जिलों में हलकी बारिश होने की संभावना है।

चौराहों और रैनबसेरों पर जलाए अलाव

शीतलहर के कारण रात में बढ़ती ठंडक के मद्देनजर नगर निगम ने प्रमुख चौराहों, रैनबसेरों पर अलाव जलाने के इंतजाम किए हैं। इनमें सरवटे बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन आदि क्षेत्र शामिल हैं। निगम की टीम ब्रिज के किनारे फुटपाथ पर सोने वाले लोगों को उठाकर रैनबसेरों में पहुंचा रही। रैनबसेरों में लोगों के लिए रजाई व गद्दों का इंतजाम किया जा रहा है।