इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। देवी अहिल्या विवि के इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (आईएमएस) में एमबीए एग्जीक्यूटिव कोर्स के परिणाम घोषित हो चुके हैं। बैच के विद्यार्थियों ने रविवार को कोर्स की मार्कशीट वितरण के साथ टॉपर्स के सम्मान समारोह का कार्यक्रम तय किया था। हालांकि संस्थान प्रशासन ने इसकी अनुमति नहीं दी। असल में कोर्स के टॉप फाइव रैंक होल्डर्स में से चार स्थानों पर अधिकारी दंपती ने कब्जा जमाया है। आईएमएस में संचालित दो वर्षीय एमबीए एग्जीक्यूटिव कोर्स का परिणाम बीते दिनों घोषित हुआ। कार्यानुभव रखने वाले लोगों को ही कोर्स में प्रवेश मिलता है।

चार सेमेस्टर के इस कोर्स की कक्षाएं शनिवार और रविवार को आईएमएस में लगती हैं। कोर्स की इस बैच में कुछ अधिकारियों ने भी प्रवेश लिया था। घोषित परिणाम के अनुसार कोर्स में कुल 2800 में से 2282 अंक पाकर श्वेता वालिया नामक छात्रा पहले स्थान पर रही। दूसरी रैंक इंदौर के संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी को मिली। उन्हें 2209 अंक मिले। कोर्स में तीसरी रैंक एडीजी मिलिंद कानिस्कर की रही। एडीजी कानिस्कर को कुल 2110 अंक मिले।

कोर्स में चौथे स्थान पर उन्हीं की पत्नी आरती कानिस्कर रहीं जबकि कोर्स में पांचवीं मेरिट कोर्स की छात्रा नेहा त्रिपाठी को मिली। कुल 2800 में से 2081 अंक पाने वाली नेहा कमिश्नर आकाश त्रिपाठी की पत्नी हैं। एमबीए की इस बैच के विद्यार्थियों की अंकसूची रविवार से आईएमएस से वितरित होगी। इस बैच के विद्यार्थियों ने मार्कशीट वितरण के लिए समारोह की घोषणा कर दी थी। साथ ही बैच के विद्यार्थियों को सूचना दे दी गई थी कि टॉपर्स का सम्मान भी होगा।

शनिवार दोपहर को आईएमएस प्रशासन ने मार्कशीट वितरण के लिए किसी भी समारोह और सम्मान समारोह की परंपरा नहीं होने की बात कहकर विद्यार्थियों को आयोजन की अनुमति नहीं दी। एमबीए एक्जीक्यूटिव के इस कोर्स में 60 प्रतिशत अंक सैद्धांतिक परीक्षा के होते हैं जबकि 40 प्रतिशत आंतरिक मूल्यांकन के दिए जाते हैं।

किसी भी कोर्स में नहीं होता मार्कशीट वितरण का समारोह

संस्थान ने सम्मान और मार्कशीट वितरण का कार्यक्रम तय नहीं किया था। विद्यार्थी खुद ही कार्यक्रम बनाकर अनुमति के लिए आए थे। हमने इनकार कर दिया। क्योंकि इससे पहले कभी भी कोर्स में मार्कशीट वितरण का समारोह नहीं हुआ न ऐसी परंपरा है। हालांकि यह सही है कि मार्कशीट सिर्फ जो विद्यार्थी हैं, उन्हें ही आकर खुद लेना होगा। - डॉ. निरंजन श्रीवास्तव कोर्स समन्वयक, आईएमएस