इंदौर। Indore Lok Sabha Election : लोकसभा चुनाव के आखिरी दौर में इंदौर लोकसभा सीट पर वोटिंग जारी है। सुबह से ही पोलिंग बूथ पर बड़ी संख्या में वोटर्स पहुंचने लगे थे। मतदान शुरू होने के पहले ही कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम खराब होने की शिकायतें आना शुरू हो गईं थीं। इस वजह से कई जगह देरी से मतदान शुरू हो सका था। हालांकि धीरे-धीरे मतदान ने रफ्तार पकड़ी, लेकिन दूसरे संसदीय क्षेत्रों से इंदौर पीछे नजर आ रहा है। गर्मी की वजह से दोपहर में मतदाता घर से कम संख्या में निकले। तीन बजे तक इंदौर में 49 फीसदी मतदान हुआ।

बीमा नगर के बूथ पर बैठा निगम कर्मचारी, कांग्रेस ने की शिकायत


बीमा नगर के एक बूथ भाजपा की अेबल पर निगम का कर्मचारी राहुल बैठा था। इसकी जानकारी मिलने पर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने निगम कमिश्नर को शिकायत की। इस बीच पुलिस अफसरों ने भी चुनाव ड्यूटी से वक्त निकालकर अपना वोट डाला।

दोपहर 3 बजे तक इंदौर लोकसभा का मतदान प्रतिशत

देपालपुर- 58 प्रतिशत

इंदौर 1- 47 प्रतिशत

इंदौर-2- 46.35 प्रतिशत

इंदौर-3- 49 प्रतिशत

इंदौर-4- 53 प्रतिशत

इंदौर-5 -52 प्रतिशत

राऊ- 48 प्रतिशत

सांवरे- 52 प्रतिशत

व्हील चेयर के सहारे वोट डालने पहुंची महिलाएं

जूना रिसाला के एक बूथ पर बीमार होने के बावजूद व्हील चेयर पर बैठकर मतदान करने पहुंची आयशा बी । विजयनगर क्षेत्र में सिका स्कूल बूथ पर चलने में नाकाम तृप्ता मेहरा भी व्हील चेयर पर बैठकर मतदान करने पहुंची।

पार्टी कार्यकताओं ने किया विवाद तो टेबले खाली करवाई

नीलकंठ कॉलोनी में बूथ नंबर 177 के बाहर करीब सवा तीन बजे विवाद हुआ। बीजेपी के कार्यकताओं ने नारेबाजी की थी। इसके बाद वहां पर लगी पार्टियों की टेबले खाली करवाई गई।

40 के पार पहुंचा पारा, धीमी नहीं पड़ी रफ्तार

दोपहर एक बजे शहर का तापमान 40 डिग्री के पार पहुंच गया है, लेकिन फिर वोटर्स का उत्साह कम होता नहीं दिख रहा है। मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्या में वोटर्स मताधिकार के इस्तेमाल के लिए पहुंचे हैं। दृष्टिहीन छात्रों ने डाला वोट है। इंदौर स्कीम 114 स्थित ग्रीन फील्ड स्कूल के बूथ नंबर 102 पर दृष्टिहीन युवाओं ने डाले वोट। इस दौरान सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी भी पहुंचे।

वोट डालने मतदान केंद्र पहुंची तो पता चला लिस्ट में नाम नहीं

इंदौर। 37/2, सियागंज तिजोरी गली में रहने वाली प्रभावती रघुवंशी और उनकी बिटिया मधुबाला ने विधानसभा चुनाव में वोट डाला लेकिन लोकसभा चुनाव का मतदान करने गुजराती कॉलेज पहुंचे तो पता चला वोटर लिस्ट से नाम गायब है। अब वे इधर-उधर भटककर लौट गए।

आदर्श मतदान केंद्र पर लगी

राऊ शहर के आदर्श मतदान केंद्र पर कूलर कुर्सियां भी लगाए गए। कालीन बिछा। मतदाता हवा खाकर कुर्सियों पर आराम कर रहे।

विधानसभा क्षेत्र तीन में हरसिद्धि स्थिति स्वामी विवेकानंद कम्युनिटी हॉल में मतदान 17 मिनट देरी से शुरू हुआ। ईवीएम की कंट्रोल यूनिट में गड़बड़ी के कारण देरी हुई। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4 के 48 नंबर मतदान केंद्र में वीवीपैट में तकनीकी खराबी आने के कारण बदलना पड़ा। सुबह 7.15 बजे जिला अस्तपाल के सामने गुजराती धर्मशाला स्थित मतदान केंद्र पर मतदान केंद्र पर भीड़ थी, लेकिन ईवीएम चालू नहीं हो पा रही थी। सुबह 7.30 बजे तक इंदौर के विधानसभा क्रं 3 में राजशाही होटल के सामने बूथ नंबर 206 में मॉक वोटिंग के बाद ईवीएम बंद नहीं हो पा रही थी।

इस वजह से यहां पर मतदान देरी से शुरू हुआ। विधानसभा क्षेत्र क्रं 5 में सुबह 7.50 बजे कोलंबिया स्कूल में पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब होने की शिकायत सामने आई। महालक्ष्मी नगर में पायनियर स्कूल बूथ नंबर 208 पार्ट 115 में ईवीएम की खराबी के कारण पौने आठ बजे तक मतदान शुरू नहीं हो सका। जबकि यहां पर मतदाताओं की लंबी कतारे लगी हुई थी। राऊ विधानसभा के मतदान केंद्र नंबर 82 पर ईवीएम मशीन में खराबी के कारण मतदान शुरू होने से पहले मॉक पोल भी नहीं हुआ। विधानसभा नंबर 2 के निरंजनपुर के बूथ नंबर 110 पर ईवीमए खराब होने के कारण 9.30 बजे तक एक घंटे के लिए मतदान बंद रहा। ईवीएम बदलने के बाद शुरू हो सका मतदान। सुबह 9.50 मिनट पर इंदौर विधानसभा क्रं 4 के 48 नंबर बूथ पर तकनीकी खराबी के कारण वीवीपैट मशीन में खराबी आई। इसके कारण 45 मिनट के लिए मतदान बंद रहा।

वोट डालकर काम पर गए मजदूर

राऊ विधानसभा के एकता नगर स्थित श्रमिक बस्ती क्षेत्र के मतदान केंद्र पर सुबह से वोट डालने के लिए लोगों की कतार लगी रही। कई श्रमिक वोट डालकर जल्दी अपने काम पर निकल गए। गणेश नगर के बूथ मतदान शुरू होने के पहले पार्टियों की टेबल तक नहीं लगी।

बग्घी में बैठकर वोट डालने गई निधि कोठारी

राजमोहल्ला निवासी डॉ महेश कोठारी की बेटी निधि जो कि कम्प्यूटर इंजीनियर है उनकी शादी 21 मई को है। निधि की रविवार को हल्दी की रस्म थी। ऐसे में निधि सुबह 10 बजे बग्गी में बैठकर वोट डालने के लिए वैष्णव स्कूल के मतदान केंद्र पर पहुंची।

3 फीट की विनिता ने डाला वोट

3 फीट लंबाई वाली विनिता ने पीडब्ल्युडी स्थित मतदान केंद्र पर वोट किया।

बीमार व परिवार की पीढ़ियां पहुंची वोट डालने के लिए

परिवार की तीन पीढ़ी के सदस्यों में नटवरलाल, अनुराज और प्रबल नीमा वोट डालने के लिए वैष्णव स्कूल के मतदान केंद्र पर एक साथ पहुंचे। इसमें प्रबल ने पहली बार वोट डाला।

बीमारी भी नहीं तोड़ सकी वोट डालने का हौसला

80 वर्षीय कोमल नीमा बीमार होने के बाद भी व्हील चेयर पर बैठकर वोटिंग करने के लिए पहुंचे। जीबीएस से पीड़ित राहुल चौरसिया को परिजन कार में बैठाकर वोट डालने के लिए आदिनाथ मांगलिक भवन स्थित बूथ पर वोट डालने के लिए लेकर पहुंचे। मतदान केंद्र पर व्हील चेयर नहीं होने के कारण राहुल ने के घरवालों ने व्हील चेयर का इंतजाम किया।

तलावली चांदा के बूथ पर निगम ने पानी के लिए नहीं किए इंतजाम

तलावली चांदा के बूथ नंबर 220, 221 और 222 पर मतदानकर्मी पानी के लिए परेशान हुए है। यहां पर पानी की कोई व्यवस्था नहीं। नगर निगम की जिम्मेदारी पानी की व्यवस्था करने की थी। मतदान कर्मियों के खुद पैसे देकर दूर से पानी बुलवाया। यहां पर बाथरूम भी साफ नहीं हुई। मतदानकर्मियों ने खूद बूथ पर लगाई झाडू।

किशोर कोडवानी का पीठासीन अधिकारी से हुआ विवाद

पटेल नगर के हीरूलबाई धर्मशाल बूथ पर वोट न डलाने देने को लेकर किशोर कोडवानी का विवाद पीठासीन अधिकारी से हुआ।

गर्भवती को कतार में लगाया, हुई बेहोश

मूसाखेड़ी स्थित नर्मदा प्रोजेक्ट के ऑफिस में बने बूथ पर मतदान बहुत धीमी गति से हो रहा था। इस वजह से यहां पर लाइन में लगी एक गर्भवती महिला अनम पति शादाब खान निवारी नूरी नगर आजाद नगर क्षेत्र गश खाकर गिर पड़ी।

11 लोगों के हाथ में स्याही लगा दी, बिना वोट डाले ही लौटे लोग

सिरपुर के बूथ नंबर 257 पर बड़ी खामी सामने आई। यहां पर 11 लोगों को हाथ में स्याही लगा दी लेकिन ईवीएम मशीन बंद हो गई। काफी देर तक ईवीएम मशीन चालू नहीं हो सकी ऐसे में लोग बिना वोट दिन ही चले गए है। ऐसे में कांग्रेस नेता गोल अग्निहोत्री और विनोद पंवार की अधिकारियों से हुज्जत हुई। कलेक्टर को फोन पर शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे तहसलीदार और उसके आधा घंटे बाद मतदान फिर से शुरू हो सका।

दूल्हे के साथ दुल्हन पहुंची वोट डालने

एरोड्रम रोड के नयापुर स्थित वैदिक स्कूल में बने मतदान केंद्र में परिणय सूत्र में बंधने जा रही सोन यादव वोट डालने दूल्हन के लिबास में पहुंची। उनके साथ पति गौरव यादव भी थे। दुल्हन के वोट डालने तक बारात रूकी रही और उसके बाद बारात प्रोसेशन के लिए निकली।

इस बार चार विधानसभा सीट कांग्रेस के पास

इंदौर जिले की विधानसभा सीटों पर हमेशा भाजपा का पलड़ा भारी रहा है, लेकिन गत विधानसभा चुनाव में देपालपुर, एक नंबर विधानसभा, सांवेर और राऊ सीट कांग्रेस के कब्जे में रही, जबकि दो, तीन, चार और पांच नंबर विधानसभा पर भाजपा उम्मीदवार जीते।

महू सीट भी भाजपा की झोली में आई, लेकिन लोकसभा क्षेत्र में यह सीट धार का हिस्सा है। दो नंबर और चार नंबर से भाजपा को तगड़ी लीड मिली थी, जिसे लोकसभा चुनाव में बांटना भी कांग्रेस के लिए चुनौतीभरा होगा।