- श्रीनगर एक्सटेंशन उद्यान में जारी 'नईदुनिया सेहत शाला' में डायबिटीज और ओबेसिटी पर चर्चा

इंदौर। नईदुनिया रिपोर्टर

यदि हम जीवन शैली में परिवर्तन कर लें तो मधुमेह और मोटापे पर नियंत्रण पा सकते हैं। प्राकृतिक जीवन शैली को अपनाकर कई परेशानियों से बचा जा सकता है। सबसे बड़ी गलती तो हम यही करते हैं कि खाना खाते वक्त मोबाइल पर लगे रहते हैं या टीवी देखते हैं। नतीजा खाने पर ध्यान नहीं होता। कई लोग खाना बहुत जल्दी-जल्दी खाते हैं, यह गलत है। हमें भोजन हमेशा आराम से करना चाहिए। चबा-चबाकर खाने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। ऐसा करके डायबिटीज और ओबेसिटी पर काफी हद तक काबू पाया जा सकता है। यह बात श्रीनगर एक्सटेंशन उद्यान में जारी 'नईदुनिया सेहत शाला' में मंगलवार को योग विशेषज्ञ डॉ. हेमंत शर्मा ने कही। डॉ.शर्मा ने डायबिटीज और ओबेसिटी को आधार बनाकर सेहत से जुड़ी जानकारियां दीं और इसी से संबंधित योगाभ्यास भी कराया।

उन्होंने योग के जरिए स्वस्थ रहने के सिद्धांतों पर जोर देते हुए कहा कि सबसे पहले तो लंबे वक्त तक योगाभ्यास करें, उसमें निरंतरता बनी हुई हो और उसमें विश्वास व पूरी श्रद्धा हो। यदि इन बातों को लेकर आगे बढ़ेंगे तो सफलता मिलेगी। लोग कुछ दिन योग करते हैं और फिर छोड़ देते हैं। चंद दिनों के अभ्यास में या निरंतरता नहीं होने पर सकारात्मक परिणाम नहीं मिल सकते।

शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक लाभ

सेहत शाला में सूर्य नमस्कार का अभ्यास कराया गया। इसका अभ्यास कराने के साथ प्रशिक्षणार्थियों को बताया गया कि सूर्य नमस्कार के 12 आसन से केवल शरीर ही स्वस्थ नहीं रहता, बल्कि ये मानसिक और आध्यात्मिक दृष्टि से भी लाभकारी हैं। इनके जरिए कम समय में शरीर और मन को चुस्त, दुरुस्त रखा जा सकता है। सूर्य नमस्कार से हमें शरीर की अतिरिक्त चर्बी को दूर करने में मदद मिलती है और शरीर की ऊर्जा सही दिशा में कार्य करती है।

ये आसन है लाभकारी

जॉइंट मूवमेंट के साथ प्रशिक्षणार्थियों को फेफड़ों की क्षमता बढ़ाने के लिए श्वसन क्रियाएं भी कराई गईं। इसके अलावा डायबिटीज और ओबेसिटी को नियंत्रित करने वाले आसनों में पाद हस्तासन, अर्धचक्रासन, मकरासन और धनुरासन का अभ्यास भी कराया गया। भ्रामरी और प्राणायाम के साथ ध्यान भी कराया गया। सेहत शाला में बुधवार को मधुमेह क्या है, यह किस कारण से होता है और इससे बचने के लिए कौन-कौन से आसन हैं व रोगी को कौन से योगाभ्यास करना चाहिए, इसकी जानकारी दी जाएगी।