इंदौर। मालवा-निमाड़ के कई जिलों में मंगलवार को अचानक बारिश हुई। कई स्थानों पर बिजली गिरने की भी खबर सामने आ रही है। इस बीच इंदौर जिले की हातोद तहसील के निवेडी गांव में एक ही परिवार के चार लोगों पर बिजली गिर गई। जिसमें से तीन की मौत हो गई है। वहीं एक और गंभीर हालत में इंदौर के एमवाय अस्पताल में लाया गया है। हातोद पुलिस भी मौके पर पहुंचीं हुई है। इसके अलावा खरगोन जिले के काटकूट में भी आकाशीय बिजली गिरने की वजह से एक ग्रामीण की मौत हो गई है।

आज सुबह से पूरे मालवा-निमाड़ में मौसम का मिजाज बदला हुआ है। दोपहर बाद से ही कई जिलों से बारिश और ओले गिरने की खबरें सामने आ रही हैं। आगर-मालवा, उज्जैन, शाजापुर, मंदसौर, नीमच में लगातार बारिश हो रही है। नीमच से 40 किमी दूर स्थित डीकेज में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। आगर में भी तेज बारिश के साथ ओले गिरे, इसके बाद मंडी में अफरा-तफरी मच गई। नीमच जिले के रामपुरा में बारिश की वजह से गेहूं और चना समर्थन केंद्रों पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। भानपुरा में समर्थन मूल्य पर तुलने आए हजारों क्विंटल गेहूं गीले हो गए। वहीं जो गेहूं खुले में पड़ा था वह भी गीला हो गया। रानापुर में भी बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया।

रानापुर के ग्राम पंचायत भोडंली के ग्राम सारसवाट मे दोपहर को बरसात के साथ ओले गिरे। तस्वीरों में देखा जा सकता है कि ओलावृष्टि के बाद बर्फ की सफेद चादर सी बिछ गई है। बेमौसम हुई बरसात की वजह से खेतों में रखा गेहूं भी कई स्थानों पर भीग गया है। वहीं उज्जैन में भी दोपहर बाद तेज बरसात हुई है। जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है। यहां कई स्थानों पर ओले गिरने की भी खबर आ रही है।