इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दोनों जहान का मालिक बनाने का झांसा देकर 50 लाख रुपए से अधिक की ठगी करने वाले तांत्रिक को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस बुधवार को उसे कोर्ट में पेश करने के बाद रिमांड मांगेंगी । ठगी के रुपए बाबा ने कव्वाली, भागवत कथा और जमीन खरीदने में उड़ा दिए। मालामाल करने का झांसा देकर तांत्रिक ने दो दर्जन से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। मंगलवार को थाने पहुंचकर बाबा के खिलाफ 10 पीड़ितों ने ठगी की शिकायत की है।

एमआईजी पुलिस ने 37 वर्षीय नेहरू नगर निवासी महिला की शिकायत पर जगदीश (45) पिता भोपतराम पालनपुरे निवासी महेश्वर को धोखाधड़ी, दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में महेश्वर से गिरफ्तार कर लिया है। टीआई तहजीब काजी ने बताया कि आरोपित पांच साल पहले नेहरू नगर में रहने आया था। इस दौरान झाड़फूंक और तंत्र विद्या के गुर दिखाकर पीड़िता और उसके पति को अपनी ओर आकर्षित कर लिया था। दिखावे के लिए धुनी लगाकर खुद पर मक्का-मदीना के सरकार और जिन्नाात सवार होने का दावा करता था।

सात पीढ़ियों का पाप खत्म करने का झांसा देकर कई लोगों को सम्मोहित कर लिया था। पीड़िता ने बताया कि मालामाल बनाने का झांसा देकर पहले उसके जेवर और फिर मकान बिकवा दिया। बाबा ने पीड़िता को अपनी मुंहबोली बेटी बना लिया था। बाद में तंत्र के जरिए पूरे परिवार को जान के मारने की धमकी देकर दो वर्षों तक ज्यादती करता रहा। दंपती आरोपित को भगवान मानने लगे थे। 15 लाख से अधिक की ठगी होने के बाद महिला आरोपित के खिलाफ शिकायत करने पहुंची थी।

एएसआई नितिन पटेल ने बताया कि आरोपित के खिलाफ दस पीड़ितों ने बयान दिए हैं। पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसके 50-60 लाख रुपए की ठगी की है। इन रुपयों से उसने महेश्वर में कई बार कव्वाली कराई है। लोगों के सामने अपनी महिमा दिखाने के लिए कई बार भागवत कथा भी करवाई। आरोपित ने कई एकड़ जमीन खरीद ली है। आरोपित झाड़फूंक और जिन्नाात विद्या से सभी समस्या को दूर करने का दावा करके लोगों से ठगी करता था। आरोपित अपनी पत्नी और दोनों बच्चों के साथ महेश्वर स्थित मकान में रहता है।