जबलपुर। ट्रेनों को समय पर रवाना करने के लिए एक ओर जहां रेलवे, हर संभव प्रयास कर रही है, वहीं उनके अधिकारी की लापरवाही से रोजाना ट्रेनें कई घंटे लेट रवाना की जा रही हैं। संपर्कक्रांति के बाद अब दयोदय एक्सप्रेस को भी जबलपुर से एक घंटे देरी से रवाना किया गया। इसमें भी मैकेनिकल और ऑपरेटिंग विभाग की लापरवाही सामने आई है।

दरअसल गुरुवार को ट्रेन अपने निर्धारित समय 8.20 पर जबलपुर से रवाना होनी थी। इसके लिए 8 बजे ही ट्रेन का रैक प्लेटफार्म पर आ गया, लेकिन रैक में अतिरिक्त कोच नहीं जोड़े गए। इसके बाद ट्रेन के लिए अतिरिक्त कोच तलाश से लेकर लगाने में ही एक घंटे का समय लग गया। इस दौरान ट्रेन प्लेटफार्म पर ही खड़ी रही। ट्रेन रात तकरीबन 9.20 पर जबलपुर स्टेशन से अजमेर के लिए रवाना हुई।

रिपेयरिंग के लिए अजमेर जाने थे कोच

रेलवे के मुताबिक इसमें अतिरिक्त कोच लगने के अलावा जबलपुर से कोच रिपेयरिंग के लिए अजमेर भेजे जाते हैं। अलग से कोच भेजने में रेलवे को काफी खर्च आता है। इस वजह से इस ट्रेन में ही रिपेयरिंग के कोच जोड़ दिए जाते हैं। इन कोच को लगाने में ही अक्सर ट्रेन समय पर रवाना नहीं हो पाती। पमरे की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी प्रियंका दीक्षित ने बताया कि ट्रेन में स्थाई तौर पर कोच लगाए जा रहे हैं। गुरुवार को ट्रेन में अतिरिक्त कोच लगने में समय लगा, जिससे ट्रेन लेट रवाना हुई।