जबलपुर। सेवानिवृत्त अधिकारी/ कर्मचारी पेंशनर महासंघ के जिला अध्यक्ष रामगोपाल शर्मा ने बताया कि 1 जनवरी 2016 के पूर्व सेवाविृत्त कर्मियों को केन्द्र के समान सातवां वेतनमान दिए जाने की मांग को लेकर सोमवार को सिविक सेंटर पार्क में धरना-प्रदर्शन के जरिए आंदोलन का शंखनाद किया गया।

मुख्यमंत्री बुलाएं महापंचायत- पेंशनर्स एसोसिएशन मध्यप्रदेश के संभागीय सचिव वीपी शुक्ला ने मांग की है कि पेंशनर्स की समस्याओं के निराकरण के लिए मुख्यमंत्री को भोपाल में महापंचायत बुलानी चाहिए। ऐसा न करके वे आक्रोश को बढ़ावा दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा- अखिल भारतीय विद्युत सेवानिवृत्त कर्मचारी महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विजय जैन ने बताया कि बकाया महंगाई भत्ता और सातवें वेतनमान की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश अध्यक्ष मधुकर साबले को सौंपा गया।

संयुक्त खोज अभियान का मानदेय नदारद- मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष नरेश शुक्ला ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने संयुक्त खोज अभियान का आयोजन किया था। इसके साथ ही 108 में भी कर्मचारी ड्यूटी पर लगाए गए थे। लेकिन अब तक मानदेय नदारद है।

केन्द्र के समान मिले महंगाई भत्ता- मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष डीएस बृछलिया ने बताया कि राज्य के कर्मियों को केन्द्र के समान महंगाई भत्ता मिलना चाहिए। इस बारे में लगातार मांग के बावजूद ठोस समाधान नदारद है।

युक्तियुक्तकरण के आदेश में फिर गड़बड़ी- मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय महामंत्री योगेन्द्र दुबे ने बताया कि युक्तियुक्तकरण के आदेश में एक बार फिर गड़बड़ी हुई है। अतिशेष के आदेश में डीईओ कार्यालय की भूमिका पुनः संदह के दायरे में आ गई है।