जबलपुर। 16 साल की किशोरी अपने बॉयफ्रेंड के साथ कुछ दिन पहले फिल्म देखने गई थी। इस बात की जानकारी किशोरी के परिजन को मिल गई। किशोरी को घर में सभी ने उसे डांटा और युवक से बात करने से मना कर दिया। किशोरी इस बात से सदमे में आ गई और गुमसुम रहने लगी। वहीं उसने स्कूल जाना भी छोड़ दिया। इसकी जानकारी किशोरी के परिजन ने लाइफ सेविंग हेल्पलाइन (संजीवनी) को दी। संजीवनी के सदस्यों ने किशोरी के घर पहुंचकर उससे बातचीत की और उसे पारिवारिक, सामाजिक, व्यवहारिक और आध्यात्मिक रुप से समझाया गया। जिसके बाद किशोरी ने विचार छोड़ दिया और अपने परिजन से माफी मांगी।