जबलपुर। इंटरनेट कनेक्शन में बार आ रही खराबी को शिकायतों के बाद भी दुरुस्त न करने को जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम ने सेवा में कमी माना हुए बीएसएनएल को 10 हजार रुपए क्षतिपूर्ति के साथ ही एक हजार रुपए वाद व्यय और बाहर से कराए गए सुधार कार्य के 8 हजार 95 रुपए भी देने के निर्देश दिए हैं। आवेदक मनोज नेमा की ओर से अधिवक्ता डॉ. एकनाथ ज्योतिषी ने फोरम को बताया कि इंटरनेट कनेक्शन में बार-बार व्यवधान आने के बाद भी उसे दुरुस्त नहीं किया गया जिससे आवेदक को मानसिक व आर्थिक परेशानी हुई। फोरम के सदस्य डीपी राय, अध्यक्ष जेआर बच्चन व सदस्य सुषमा पटेल द्वारा मामले की सुनवाई करते हुए उसे सेवा में कमी का गंभीर मामला माना गया।