जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। Jabalpur News : इस क्षेत्र में बिजली मेंटेनेंस के लिए सप्लाई बंद हुई है। असुविधा के लिए खेद है। कुछ ऐसी ही मुनादी बिजली विभाग गली - मोहल्लों में करवा रहा है। सिर्फ तरीका बदला हुआ है। मुनादी करने वाले पैदल चलने की बजाए स्कूटर में लाउड स्पीकर लगाकर घूम रहे हैं। यह व्यवस्था उपभोक्ताओं को कटौती के भ्रम से बचाने के लिए की गई है, क्योंकि विभाग 15 जुलाई से पहले शहर में मेंटेनेंस का काम पूरा करने की कोशिश में जुटा है।

अभी तक बिजली विभाग मेंटेनेंस वाले क्षेत्र के उपभोक्ताओं को एसएमएस के जरिए जानकारी भेजकर बिजली बंद रखने की जानकारी देता था। इसके अलावा समाचार पत्रों के माध्यम से भी यह सूचना दी जाती थी। लेकिन इससे उपभोक्ताओं में भ्रम की स्थिति बनी हुई थी क्योंकि एसएमएस और समाचारों की सूचना में प्रमुख स्थानों का नाम ही रहता था। गली - मोहल्लों की जानकारी नहीं होती थी लेकिन अब उपभोक्ताओं को जागरुक करने के लिए मुनादी का फार्मूला लागू किया गया है।

सप्लाई जिस दिन बंद होती है उस दिन लोग परेशान न हों इसलिए गली - मोहल्लों में लाउड स्पीकर के जरिए बिजली बंद होने की खबर पहुंचाई जा रही है। इलाके में लगातार इस जानकारी को फैलाने के लिए दो कर्मचारियों को इसी काम में लगाया गया है। अधीक्षण यंत्री आईके त्रिपाठी ने कहा कि उपभोक्ताओं को किसी तरह की कोई भ्रांति न रहे इसलिए मुनादी करवाई जा रही है।

वाट्सएप ग्रुप नहीं बने

ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने सभी इलाकों में बिजली कटौती की अफवाहों को खत्म करने सोशल मीडिया पर जानकारी शेयर करने के निर्देश दिए थे। अलग-अलग वाट्सएप ग्रुप बनाकर जनप्रतिनिधि, उपभोक्ता, मीडिया आदि लोगों को जोड़ा जाना था, ताकि क्षेत्र में बिजली बंद है कि नहीं इसकी जानकारी बराबर मिल सके। विभाग को अंदेशा है कि कुछ शरारती तत्व बिजली बंद होने की फर्जी अफवाहों को फैलाकर सरकार के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं।

इसी अफवाहों को पूरी तरह से खत्म करने के लिए सोशल मीडिया में अफसरों को लगातार सूचनाएं डालने के निर्देश हुए थे। विभागीय सूत्रों की माने तो ज्यादातर अफसर इससे दूर हैं। जो सोशल मीडिया में शामिल भी हुए तो वे सूचनाएं शेयर करने में कंजूसी बरत रहे हैं।