जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। राजनीतिक दलों के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भी चुनावी मैदान में है। कोशिश नोटा में वोट खराब होने से रोकना है। इसके लिए संघ ने बूथ स्तर पर पूरा प्लान बनाकर काम शुरू कर दिया है। लोगों के बीच पहुंचकर राष्ट्रहित में अधिक से अधिक संख्या में वोट करने और नोटा में वोट खराब नहीं करने के लिए उन्हें प्रेरित किया जा रहा है। 2018 के विधानसभा चुनाव में जबलपुर की 8 विधानसभा में 20921 वोट नोटा में गए थे। एक विधानसभा तो सिर्फ 578 वोट से जीत-हार हुई थी और दोगुने से अधिक वोट नोटा में गए थे।

बस्ती स्तर पर संघ कर रहा काम

विधानसभा चुनाव में संघ ने सिर्फ ऊपरी स्तर पर काम किया था। इसका खामियाजा खराब नतीजों के रूप में देखने को मिला। प्रदेश में सरकार बदल गई। लोकसभा चुनाव में संघ कोई कोताही नहीं बरतना चाहता है। इसलिए एक-एक बूथ पर मॉनिटरिंग के लिए टीम बनाकर जिम्मेदारी बांट दी गई है। संघ की अलग टीम बूथ स्तर पर काम कर रही है। लोगों को राष्ट्रहित में वोट करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। जबलपुर महानगर में संघ के लिहाज से 223 के आसपास बस्तियां हैं। इनमें स्वयंसेवकों की टीम बनाई गई है। हर दिन बैठकें हो रही हैं।

नोटा को रोकने की कोशिश

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कोशिश नोटा को पूरी तरह से रोकने की है। बूथवार पूरा हिसाब-किताब संघ ने तैयार कर लिया है। चिन्हित किया जा रहा है कि कौन ऐसे व्यक्ति हैं जो नेताओं से असंतुष्ट हैं। क्या वजह है। उनकी सूची बनाकर उनसे स्वयंसेवक मिलने जा रहे हैं। ऐसे वोटर की सूची बनाकर उनसे कई दौर में बातचीत का प्रयास हो रहा है।

कांग्रेस-भाजपा के पदाधिकारी भी दे रहे समझाइश

कांग्रेस-भाजपा भी नोटा में वोट रोकने के लिए मंथन कर रही हैं। कांग्रेस और भाजपा पदाधिकारियों का कहना है कि नोटा में वोट जाने से दोनों ही पार्टियों को नुकसान होता है। इसलिए सभी अपने स्तर पर लोगों को समझाइश दे रहे हैं।

2018 में नोटा से नुकसान

2018 के विधानसभा चुनाव में नोटा ने भाजपा का अच्छा खासा नुकसान किया। पूर्व राज्यमंत्री शरद जैन की उत्तर मध्य सीट में हार महज 578 वोट से हुई। जबकि नोटा में करीब 1209 वोट पड़े। जो हार-जीत में निर्णायक साबित होते। लोकसभा में ऐसी स्थिति न पैदा हो इसके लिए पहले से सावधानी बरती जा रही है।

किस विस में कितने वोट पड़े थे नोटा में

सिहोरा- 4620

पनागर-1785

पश्चिम-2632

कैंट - 2256

उत्तर- 1209

पूर्व- 2148

बरगी-3091

पाटन-3180