जबलपुर। नईदुनिया न्यूज

अक्षय तृतीया और भगवान परशुराम का जन्म दिवस बुधवार को है। यह दिन बहुत ही शुभ माना जाता है। इस दिन कमाया गया पुण्य अक्षय होता है। अक्षय तृतीया पर दान करना भी शुभ माना गया है। इस दिन किसी भी कार्य को करने के लिए पंचांग या मुहूर्त देखने की आवश्यकता नहीं होती।

भगवान परशुराम न्याय के देवता

भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम हैं। इनका जन्मोत्सव अक्षय तृतीया के दिन मनाया जाता है। भगवान शिव के परमभक्त परशुराम न्याय के देवता हैं। इस दिन ब्राह्मण संगठनों द्वारा विशेष पूजन-अर्चन किया जाएगा। मटामर स्थित भगवान परशुराम की प्रतिमा का महाभिषेक होगा। इसके अलावा ग्वारीघाट में विशेष पूजा होगी। आस्था ब्राह्मण महासभा द्वारा गोहलपुर थाना हनुमान मंदिर से बुधवार शाम 4.30 बजे शोभायात्रा निकाली जाएगी।

शिव-पार्वती और नर नारायण की पूजा का महत्व

आचार्य वासुदेव शास्त्री ने बताया कि सुख समृद्घि और सौभाग्य की कामना के लिए अक्षय तृतीया पर शिव-पार्वती और नर नारायण की पूजा की जाती है। इसके अलावा लक्ष्मीजी की पूजा करने का भी महत्व है। घरों में मिट्टी की दूल्हा-दुल्हन रूपी प्रतिमाओं, मिट्टी के घड़े का पूजन किया जाएगा। इसी के साथ ब्राह्मणों को दान पुण्य का भी विशेष महत्व है। लोग इस दिन सोना, बर्तन एवं वस्त्र आदि खरीदते हैं, जो अक्षय होता है। उन्होंने बताया कि इसी दिन भगवान परशुराम का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। भगवान परशुराम पराक्रम के कारक एवं सत्य के धारक हैं।

--------

रानीताल में किया पूजन अर्चन

टीसी फोटो,,,

भगवान परशुराम जन्मोत्सव की पूर्व संध्या पर ब्राह्मण एकता मंच के बैनर तले ब्राह्मण संगठनों ने रानीताल चौक से भगवान परशुराम का पूजन अर्चन कर शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा में भगवान की झांकियां शामिल थीं। श्रद्घालुओं ने जगह-जगह पूजन एवं स्वागत किया। इस दौरान चंदू पंडित, मनीष नायक, बंटू बारी, शैलेष पाठक, पं. हिमांशु शुक्ला, संदीप मिश्रा, दिलीप गोस्वामी, अंकित चौबे, विपिन ठाकुर, राजुल ठाकुर आदि मौजूद रहे।

आनंदकुंज से निकाली वाहन रैली

डीसी फोटो,,,

विप्र चेतना मंच एवं ब्राह्मण एकता मंच के संयुक्त तत्वावधान में आनंदकुंज तिराहा गढ़ा से वाहन रैली एवं शोभायात्रा निकाली गई। इसमें भगवान परशुराम की सजीव झांकी, डांडिया करती बालिकाएं शामिल थीं। समापन अवसर पर विप्र सभा एवं महाआरती का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री हरेंद्रजीत सिंह बब्बू, रूपकिशोर प्यासी, रोहित तिवारी, राबिन तिवारी, अभिषेक पाठक, रामफल मिश्रा, दीपक तिवारी, शैलेंद्र दुबे, आलोक उपाध्याय, अतुल मनोध्याय, देवेंद्र मनोध्याय, अखिलेश शर्मा आदि मौजूद रहे।

शिव मंदिर रद्दी चौकी से निकली शोभायात्रा

डीसी फोटो,,,

परशुराम ब्राह्मण महासभा द्वारा शिव मंदिर रद्दी चौकी से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। इसमें नागा संत श्यामदास महाराज, यज्ञाचार्य दत्त महाराज कोनी आश्रम विराजमान थे। शोभायात्रा में भगवान की झांकियां शामिल थीं। मातृ शक्तियां कलश लेकर चल रहीं थीं। बैंडदल के द्वारा भजनों की ध्वनि प्रस्तुत की जा रही थी। इस दौरान प्रगतिशील ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष आदर्शमुनि त्रिवेदी, विधायक अशोक रोहाणी, कृषि विवि के कुलपति पीके बिसेन, पंकज दुबे, श्रीराम सोनकर, एमएम पांडे, एचपी उरमलिया, सुभाष शुक्ला, रामउजागर तिवारी, पंकज शुक्ला, दीपक गर्ग, नंदू तिवारी, पंकज शुक्ला, लव दुबे, डॉ. ब्रजेश पाठक आदि मौजूद रहे।

---------