जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

धनवंतरि नगर स्थित बायपास पर डीजल चोरी के मामले में ड्राइवर, कंडक्टर और एक अन्य कर्मचारी को निर्वस्त्र करके मारपीट करने वाले आरोपित रेत कारोबारी पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। वीडियो वायरल होने के कारण सनसनी मच गई थी। मामले की सूचना और वीडियो पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों तक पहुंचा। जिसके बाद उन्होंने संजीवनी नगर टीआई और स्टाफ की टीम बनकर पीड़ितों की तलाश के लिए लगा दिया था। पीड़ित कहां के हैं और कौन हैं इसके बारे में किसी को भी जानकारी नहीं थी। लेकिन ड्राइवरों और अन्य लोगों से पतासाजी करते हुए पुलिस रात को पीड़ितों तक पहुंच गई। पीड़ितों ने मामले की शिकायत थाने में दर्ज कराई है। आरोपित को राजनीतिक संरक्षण भी है, जिससे पीड़ित शिकायत करने में दहशत में थे।

डीजल चोरी का था संदेह

पीड़ित मंडला निवासी सुरेश ठाकुर (56), सिवनी टोला निवासी आशीष ठाकुर और गोटेगांव निवासी गोलू ठाकुर रामपुर में रहने वाले गुड्डू शर्मा के हाइवा के ड्राइवर, कंडक्टर हैं। सुरेश लगभग 20 साल से ज्यादा समय से गुड्डू शर्मा के पास काम कर रहा है। लेकिन गुड्डू को कुछ दिनों से यह शंका थी कि वह तीनों हाइवा का डीजल चोरी करके बेच देते हैं। आरोपित गुड्डू शर्मा रेत कारोबारी है।

ऑफिस पहुंचते ही पूछताछ कर की मारपीट

तीनों पीड़ितों ने बताया कि बुधवार को वह बायपास स्थित ऑफिस पहुंचे। जहां गुड्डू और एक अन्य ने डीजल चोरी का संदेह जाहिर करते हुए विवाद करना शुरू कर दिया। जब तीनों ने ऐसा कोई काम नहीं करने की बात कहीं, तो वह विवाद करते हुए मारपीट करने लगे और फिर वहीं बायपास के पास ले जाकर तीनों को कपड़े उतारने के लिए कहा और फिर उनके साथ मारपीट कर दी।

आरोपित ने ही वायरल किया वीडियो

आरोपित और उसके साथी ने मारपीट का वीडियो बनाया और फिर उसे खुद ही वायरल भी किया। ताकि डीजल चोरी करने का लोग अंजाम देख सके।

........

पीड़ितों की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच में लिया गया है। आरोपितों की तलाश के लिए टीम लगाई गई है।

-भूमेश्वरी चौहान, संजीवनी नगर टीआई