जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सेंट्रल आर्डनेंस डिपो (सीओडी) से एके-47 रायफल के साथ ही उसके 250 कारतूस भी चोरी किए गए। यह खुलासा आरोपित सुरेश ठाकुर (सीओडी आरएसएसडी वर्कशॉप का सीनियर इंचार्ज) ने पुलिस पूछताछ में किया। इस पर क्राइम ब्रांच व गोरखपुर पुलिस ने रविवार की शाम आरोपित सुरेश के अधारताल स्थित घर जाकर तलाशी ली। इस दौरान सोने-चांदी के जेवर और करीब 3 लाख रुपए (नए व पुराने नोट) बरामद हुए।

आरोपित पुरुषोत्तम रजक (सेना का सेवानिवृत्त आर्मरर) ने सीओडी से एके-47 व उसके पार्ट चुराकर लाने की जवाबदारी सुरेश ठाकुर और उसके अन्य साथियों को सौंपी थी। इन आरोपितों ने सीओडी से एके-47 के साथ ही उसके कारतूस भी चुरा लिए। यह कारतूस सुरेश ने आरोपित पुरुषोत्तम के हवाले कर दिए। क्राइम ब्रांच ने पूछताछ में यह खुलासा होने पर पहले पुरुषोत्तम के पंचशील नगर और कृष्णा हाईट्स के मकानों में तलाशी ली। इस दौरान उसके घर से एके-47 के 2 कारतूस और कुछ डायरियों सहित अन्य सामान जब्त किए गए हैं।

रुपयों के साथ आए कारतूस

सीओडी से एके-47 के कारतूस चोरी करने को लेकर आरोपित सुरेश ठाकुर ने पुलिस को गुमराह भी किया। पुलिस ने सुरेश से दोबारा पूछताछ की तो उसने पेमेंट के रुपयों के पैकेट में एके-47 के कारतूस आना बताया।

पैकेट में पटना का अखबार

पुलिस ने आरोपित सुरेश के घर से वह पेमेंट पैकेट भी जब्त किया है। इस पैकेट पर बिहार, पटना से 27-28 सितंबर को प्रकाशित अखबार लिपटे हैं। इस पैकेट में कुछ रुपए भी रखे पाए गए।

पुलिस को साथियों की तलाश

जबलपुर पुलिस को एके-47 की चोरी व तस्करी मामले में अब तक आरोपित पुरुषोत्तम रजक व सुरेश ठाकुर के अन्य साथियों की तलाश है। क्राइम ब्रांच ने इन आरोपितों से लगातार पूछताछ की, फिर भी उन्होंने अपने किसी साथी के नाम का खुलासा नहीं किया। इसलिए पुलिस इन आरोपितों की मोबाइल कॉल डिटेल व उनकी डायरियों में दर्ज नामों के आधार पर संदिग्ध व्यक्तियों को थाने बुलाकर बयान ले रही है।