कालापीपल मंडी। पहले की अपेक्षा वर्तमान में प्रतिस्पर्धा का दौर बढ़ा है। पढ़ाई के बाद छात्र अपनी रुचि अनुसार विषय लेकर अपना भविष्य तय कर रहे हैं। विद्यार्थी प्रतिस्पर्धा एवं आधुनिक युग में हम अपना लक्ष्य तो प्राप्त करें, साथ ही भारतीय संस्कृति एवं संस्कार को हमेशा आत्मसात करके रखें।

यह बातें जिला पंचायत सदस्य नवीन शिन्दे ने कही। सरस्वती शिशु मंदिर खरदौनकलां में वार्षिकोत्सव किया गया। इसमें विद्यार्थियों ने देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। बाल विवाह, नशा मुक्ति व योग का संदेश देती लघु नाटिकाओं ने वाहवाही लूटी। अध्यक्षता जगन्नाथ वर्मा ने की। विशेष अतिथि रघुनाथ महाराज, चंद्रशेखर बारोड़, धर्मसिंह वर्मा, प्रेमनारायण गड़िया थे। आभार प्राचार्य नरेश जामिया ने माना। इस अवसर पर जनप्रतिनिधि, ग्रामीण एवं अभिभावक मौजूद थे।

पᆬोटो- 15 केपीएम- 02, 03 एवं 04 ग्राम खरदौनकलां में प्रस्तुति देते विद्यार्थी।