खंडवा, नईदुनिया प्रतिनिधि। वह सो रही थी। अचानक आंख पर टार्च की रोशनी पड़ी। आंख खुली तो सामने चार नकाबपोश खड़े थे। वह घबरा गई। चिल्लाने लगी तो एक ने धमकाया। उन्होंने पूछा कै श कहां रखा है। मना करते ही मारपीट करने लगे।एक ने उसका मुंह हाथ से बंद कर दिया। बाकी तीन लोगों ने उसके साथ मारपीट कर हाथों में पहनी सोने की चार चूड़ियां, अंगूठी और गले की चेन निकाल ली। झुमके नहीं निकलने पर उसका कान पकड़कर खींच दिया। उसे जमीन पर पटक दिया। उसने बदमाशों से कहा कि जो चाहिए ले जाओ, बस मुझे छोड़ दो। करीब आधे घंटे बदमाशों से घिरी रही वृद्धा ने यह आपबीती पुलिस को सुनाई। चार नकाबपोश बदमाश वृद्धा से करीब दो लाख रुपए के गहने लूट कर ले गए।

पुलिस के अनुसार यह वारदात सर्वोदय कॉलोनी में सोमवार तड़के करीब 3.30 सेवानिवृत्त इंजीनियर पीके पुरुषोत्तम के घर हुई। पुरुषोत्तम हार्ट की बीमारी से पीड़ित हैं। कु छ दिनों से वे अपना उपचार कराने के लिए बेंगलूरू दो बेटियों के पास गए हुए हैं। घर पर उनकी पत्नी लीना (75) ही थी। चारों नकाबपोश बदमाश खिड़की के रास्ते घर में घुसे। अलमारी से कु छ रुपए और चांदी के सिक्के भी बदमाश अपने साथ ले गए।

12 घंटे बाद पहुंचे पुलिस अधिकारी

बदमाशों के भाग जाने के बाद वृद्धा ने पड़ोसी शंकरलाल वैष्णव को आवाज लगाई। शंकरलाल के आने पर वृद्धा ने घटना के बारे में बताया। शंकरलाल ने बताया कि सूचना पर डॉयल 100 से पुलिसकर्मी आए। उन्हें पड़ोसी के यहां हुई चोरी के बारे में बताया। इसके बाद वे थाने आकर रिपोर्ट दर्ज कराने का कहकर चले गए। थाने में भी सूचना दी लेकि न पुलिस अधिकारी 12 घंटे बाद दोपहर करीब 3.30 बजे मौके पर पहुंचे। वृद्धा के घर अप्रैल में भी चोरी हुई थी। बदमाश पानी की मोटर चुराकर ले गया था। इसकी शिकायत भी वृद्धा ने कोतवाली थाने में की थी लेकि न आरोपित नहीं पकड़ा गया।

रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कराया इंतजार

वृद्धा क्षेत्र के कु छ लोगों के साथ करीब 12 बजे कोतवाली पहुंची। यहां करीब एक घंटे तक वह थाने में के स दर्ज कराने के लिए बैठी रही। इस बीच उनके साथ आए पड़ोसी ने पुलिस अधीक्षक रुचि वर्धन मिश्र को फोन पर रिपोर्ट दर्ज नहीं करने की शिकायत की। पुलिस अधीक्षक मिश्र ने तत्काल के स दर्ज करने के आदेश दिए। इसके बाद रिपोर्ट लिखी गई। पुलिस अधीक्षक मिश्र ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कराने में क्यों देर हुई है, यह पता लगाया जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।