खरगोन। देश के सभी नागरिकों को मतदान का अधिकार है। फिर हम शासकीय कर्मचारियों को भी यह अधिकार मिलना चाहिए। यह बात शुक्रवार को सेगांव ब्लॉक से आए शासकीय कर्मचारियों ने कहीं। उन्होंने बताया कि 22 फरवरी को तीसरे चरण के दौरान

सेगांव ब्लॉक में पंचायत चुनाव होना है। इस ब्लॉक में रहने वाले शासकीय कर्मचारियों की ड्यूटी भीकनगावं, भगवानपुरा और गोगावां ब्लॉक में लगा दी गई। सेगांव ब्लॉक के शासकीय कर्मचारियों ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिम्मेदारों को अपनी पीढ़ा सुनाई।

कलेक्टर कार्यालय पहुंचे शासकीय कर्मचारियों ने बताया कि वे सभी सेगांव ब्लॉक के रहने वाले है। तीसरे चरण के दौरान अन्य तीन ब्लॉकों की तहर ही सेगांव ब्लॉक में भी पंचायत चुनाव के लिए मतदान होना है। लेकिन अन्य ब्लॉकों में चुनाव के दौरान ड्यूटी लगने से शासकीय कर्मचारी मतदान से वंचित रह जाएंगे। कर्मचारियों ने बताया कि उन्होंने प्रथम चरण के दौरान हुए चुनाव में ड्यूटी कर चुके हैं और अब तीसर चरण के दौरान भी ड्यूटी मतदान में लगा दी गई है जिससे हम मतदान अधिकार का उपयोग नहीं कर पाएंगे।

196 पुरुष और महिलाओं की लगी है ड्यूटी

समस्या लेकर आए ब्लॉक के आशीष तिवारी, शिवराम पंवार और परसराम चौहान ने बताया कि ब्लॉक के 112 पुरुष और 84 महिलाओं की ड्यूटी चुनाव में लगाई गई है। यदि जिला निवार्चन अधिकारी द्वारा हमारी ड्यूटी बदली नहीं गई तो करीब 200 शासकीय कर्मचारी मतदान से वंचित रह जाएंगे।

नहीं है मतपत्र का अधिकार

जिला निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार पंचायत चुनाव में शासकीय कर्मचारियों को निर्वाचन कर्त्तव्य मतपत्र का वितरण नहीं किया जाता है। मतपत्र का वितरण सिर्फ लोकसभा और विधानसभा चुनाव में ही किया जाता है। इस चुनाव में शासकीय कर्मचारी अपने मताधिकार का प्रयाग नहीं करपाएंग।