- केंद्र के कर्मचारियों को सितंबर से मिल रहा है बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

अक्टूबर का वेतन प्रदेश के सभी साढ़े चार लाख कर्मचारियों को मिल चुका है। इस बार भी वेतन में महंगाई भत्ते का लाभ 9 की बजाय 7 फीसदी ही दिया गया। कर्मचारियों का कहना है कि चुनाव के चलते नवंबर में भी बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ मिलना संभव नहीं है। बता दें कि कर्मचारियों का महंगाई भत्ता जुलाई से 7 की बजाय 9 फीसदी होना था। सितंबर से केंद्र के कर्मचारियों को यह लाभ मिलने लगा है।

राज्य के कर्मचारियों को 9 फीसदी के हिसाब से महंगाई भत्ते का लाभ मिलता तो उन्हें हर माह वेतन में 300 से लेकर 2000 रुपए तक का फायदा होगा। नाखुश कर्मचारियों ने पूर्व में मुख्य सचिव को पत्र लिखकर महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की मांग की है।

राज्य के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता नहीं बढ़ा, लेकिन केंद्र ने सितंबर से अपने कर्मचारियों को बड़े हुए वेतन लाभ दे दिया है। कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें सालों से बोनस भी नहीं मिलता, जबकि पड़ोसी राज्य राजस्थान ने हाल ही में कर्मचारियों को दीपावली पर बोनस दिया था। निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को भी यह लाभ मिलता है। कर्मचारियों का आरोप है कि महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी न कर राज्य के साढ़े चार लाख से अधिक कर्मचारियों की उपेक्षा की गई है। कर्मचारी नेता वीरेंद्र खोंगल, एलएन शर्मा, उमाशंकर तिवारी, जितेंद्र सिंह, ओपी कटियार, सुभाष वर्मा और विजय सिंह रघुवंशी ने महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी करने की मांग की है।