भोपाल। सोमवार 14 जनवरी को रात्रि 2.21 बजे सूर्य ने धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश किया। 15 को मकर संक्रांति पर्व मनेगा। मां चामुंडा दरबार के पुजारी रामजीवन दुबे एवं ज्योतिषाचार्य विनोद रावत के अनुसार इस दिन पवित्र नदियों में स्नानदान करना पुण्यकारी होता है।

तिल के लड्डू और गरम वस्त्र दान करना विशेष फलदायी होता है। इस दिन से एक माह तक सूर्य मकर राशि में ही रहेंगे। गुरु वृश्चिक राशि में ही हैं। शनि धनु में गोचर कर रहे हैं। राहु कर्क में तथा केतु मकर में हैं। सूर्य तथा शनि एक साथ एक माह मकर राशि में रहेंगे। इस प्रकार सूर्य अपने पुत्र शनि की राशि में एक माह तक विराजमान रहेंगे।

जानिए राशियों पर क्या होगा इसका असर

-मेष राशि के जातक रियल स्टेट में निवेश करने का मन बना रहे हैं, लेकिन विवादों से इनको बचना होगा।

-वृष तथा तुला के लिए शुभता में वृद्धि रहेगी।

-कर्क राशि के लिए राहु का गोचर कष्टदायी है।

-सिंह तथा कन्या राशि के राजनीतिज्ञ सफल रहेंगे।

-मीन तथा मकर के लोग सफल रहेंगे।

-मेष, तुला, मकर तथा मीन की राशि वालों का जीवन दांपत्य जीवन में बदलने के योग बन रहे हैं।

राजधानी में उड़ेगी बरेली के मांझे से बंधी लखनऊ की पतंग

कोलार रोड स्थित मंदाकिनी मैदान में मकर संक्रांति पर्व पर 14 जनवरी को अलौंकिक सेवा समिति के तत्वावधान में 22वां पतंगोत्सव होने जा रहा है। इसमें राजधानी के ही अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। समिति अध्यक्ष विजय शंकर दीक्षित ने बताया कि इस वर्ष 16 टीमों को बुलाया है। उन्होंने बताया कि अंडे की लुब्धी से बने मांझे बरेली से और पतंग लखनऊ से खरीदी गई हैं।

धारदार चाइना और पांडा माझा की मांग है, लेकिन इसको सुरक्षा के मद्देनजर नहीं बुलाया है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा, विधायक आरिफ मसूद और इंदौर से संजय शुक्ला होंगे। सुबह 10.30 से प्रतियोगिता शुरू होगी। विंध्याचल अकादमी के छात्रों की देख-रेख में पतंग के कन्ने बांधे जाएंगे। जिला प्रशासन ने अनुमति दी है। सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।