बिछिया/मंडला। सड़क निर्माण के लिए वनभूमि में खोदे गए गड्ढे में भरे पानी में चार बच्चों की मौत डूबने से हो गई। एक को बचा लिया गया। इस घटना में दो सगी बहनों की मौत हुई है।

सभी मृतक बच्चे बिछिया नगर के नयाटोला वार्ड नंबर 15 के निवासी थे। घटना मंडला जिले के बिछिया नगर की सीमा से लगे ग्राम पंचायत डीलवारा के पोषक गांव उर्दली में दोपहर बाद करीब 2 बजे की है।

नयाटोला वार्ड से नजदीक उर्दली गांव में भरे पानी में नहाने के लिए प्रीति (9) पिता चैनसिंह धुर्वे, उर्मिला (7) पिता चैनसिंह धुर्वे दोनों सगी बहनें, जोसफ (8) पिता मनोज सरौते, सरोज (12) पिता संपत मरावी और राजेश्वरी (06) पिता रामाधार तिलगाम अपने घर से लगभग 100 मीटर दूरी पर गए हुए थे।

बच्चे नहाने के लिए उतरे और गहराई में चले गए, जिससे डूबने लगे। उन्हें डूबते देख वहां पर खड़े कुछ बच्चों ने इसकी सूचना पास में खेत में काम कर रहे किसान परमानंद यादव को दी। मौके पर पहुंचकर उन्होंने राजेश्वरी को तो बचा लिया।

पानी में सांप देखकर हिम्मत टूटी और बच्चे डूब गए

इसके बाद जब वह अन्य बच्चों को बचाने के लिए फिर पानी में उतरे, लेकिन पानी के अंदर ही एक जहरीला सांप था। सांप को देखकर उसकी हिम्मत टूट गई। इससे चार बच्चों को नहीं बचा सके। राजेश्वरी को तत्काल बिछिया अस्पताल पहुंचा गया। चारों बच्चों का पीएम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है।