मंदसौर। मासूम से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में गुरुवार को भी न्यायालयीन कार्रवाई आगे नहीं बढ़ पाई। अभी तक दोनों आरोपितों की तरफ से कोई भी वकील न्यायालय में खड़ा नहीं हुआ है। इधर आरोपित आसिफ पिता जुल्फिकार मेव की मां सलमा बी ने एक आवेदन गुरुवार को पाक्सो एक्ट की विशेष अदालत में पेश किया है।

इसमें बताया गया है कि मंदसौर व आसपास के क्षेत्र में कोई भी वकील पैरवी के लिए तैयार नहीं हो रहा है। इसके लिए हम बाहर से वकील की व्यवस्था कर रहे हैं। अत: हमें थोड़ा समय दिया जाए।

इसके बाद न्यायाधीश ने शाम को इस मामले में अगली तारीख 16 जुलाई लगाई है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सीतामऊ के अधिवक्ता द्वारा पैरवी करने से मना करने पर अब गरोठ के अभिभाषक का नाम दिया है, पर गुरुवार शाम को न तोे वह खुद पेश हुए और न ही हां या ना का जवाब दिया है।

उप संचालक अभियोजन बीएस ठाकुर, एडीपीओ नितेश कृष्णन ने बताया कि आरोपितों के वकील नहीं होनेे से गुरुवार को भी न्यायालयीन कार्रवाई नहीं हो सकी। अब अगली तारीख 16 जुलाई लगी है।