घुघरी। नईदुनिया न्यूज

जनपद पंचायत अध्यक्ष के नेतृत्व में जनपद की सभी 46 पंचायतों के सरपंचों सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासियों ने शुक्रवार को कलेक्टर के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें क्षेत्र की जर्जर सड़कों के जल्द निर्माण सहित अन्य मांगों को जल्द पूर्ण करने की मांग की गई है। उनका कहना था कि यदि शीघ्र जर्जर सड़क का निर्माण शुरू नहीं कराया गया तो आने वाले चुनाव वोट ही नहीं करेंगे।

जनपद अध्यक्ष कौशल्या मरावी ने बताया कि सलवाह से मंडला तक सड़क काफी जर्जर हो चुकी है। जहां से पैदल और वाहन चालकों को आवागमन काफी मुश्किल भरा साबित हो रहा है। जरा सी बारिश में इस मार्ग में कीचड़ मच जाता है यही नहीं इस सड़क की चौड़ाई भी काफी कम है जिससे बड़े वाहनों की आवाजाही में भी परेशानी होती है।

खोली जाए बैंक की दूसरी शाखा

ज्ञापन में बताया गया कि घुघरी क्षेत्र में एक ही राष्ट्रीयकृत बैंक है इसी शाखा में शासन की मजदूरी भुगतान, पेंशन बोनस सहित अन्य बैंकिंग कार्य होते है। जिससे यहां हमेशा काम का दवाब तो रहता ही है इसी के साथ भीड़ अधिक हो जाने से दूर-दराज से आने वाले ग्रामवासियों को कई बार बैंक के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इसीलिए घुघरी में स्टेट बैंक की शाखा खोलने की मांग खोलने की मांग की गई है।

कॉलेज खोलने में घुघरी की हुई उपेक्षा

घुघरी विकासखण्ड में 91 गांव और 46 पंचायतें हैं। जिनसे बालक-बालिकाओं को शिक्षा प्राप्त करने के लिए दूर जाना पड़ता है। कॉलेज की सुविधा न होने से कई छात्र-छात्राएं बीच में ही अपनी पढ़ाई छोड़ देते हैं। इस तरह गांव के युवक-युवतियां उच्च शिक्षा से वंचित हो रहे हैं। जनपद अध्यक्ष कौशल्या मरावी का कहना था कि घुघरी तहसील में घुघरी सहित मोहगांव भी शामिल है। हाल ही में ग्राम पंचायत अंजनिया एवं मवई में कॉलेज खोलने की घोषणा की मुख्यमंत्री द्वारा की गई है जबकि घुघरी में भी कॉलेज खोलने की मांग वर्षों से की जा रही है। इस तरह घुघरी की उपेक्षा की गई है।

कई गांव आज भी अंधेरे में

हर गांव को बिजली पहुंचाने की बातें कही जा रही है। वहीं विकासखंड घुघरी में 91 गांवों में से 65 गांवों में ही बिजली पहुंच पाई है। बाकि गांव आज भी रात होते ही अंधेरे में डूब जाते हैं। जिससे इन गांवों के लोग आज भी अपने आपको पिछड़ा हुआ महसूस कर रहे हैं। जल्द इन गांवों तक बिजली पहुंचाने की मांग की गई है।

नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

कलेक्टर के नाम एसडीएम को सौंपे गए ज्ञापन में बताया गया है कि 7 दिनों में इन समस्त मांगों को पूर्ण किया जाए। अन्यथा इसके बाद आंदोलन एवं धरना प्रदर्शन किया जाएगा। जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन-प्रशासन की होगी।

-----------

ग्रामवासियों के साथ मिलकर कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा गया है। जिसमें क्षेत्र में सड़क, बिजली और कॉलेज की मांग की गई है। ग्रामवासियों द्वारा शीघ्र सड़क निर्माण की बात कही गई है यदि शीघ्र सड़क निर्माण नहीं किया गया तो आने वाले चुनाव में वोट नहीं करेंगे।

कौशल्या मरावी, अध्यक्ष

जनपद पंचायत घुघरी।

13एमडीएल 16 घुघरी । एसडीएम को ज्ञापन सौंपती जनपद पंचायत अध्यक्ष कौशल्या मरावी।