महू (इंदौर)। इंदौर और आसपास बीते 2 दिनों से हो रही तेज बारिश के चलते महू में एक स्कूल पर बरगद का विशाल पेड़ गिर गया। गनीमत ये रही कि उस समय स्कूल शुरू नहीं हुआ था और बच्चे स्कूल नहीं पहुंचे थे, नहीं तो बड़ा हादसा हो जाता।

जानकारी के मुताबिक इंदौर के पास महू तहसील के ग्राम चौरड़िया के मुख्य मार्ग स्थित एक शासकीय स्कूल के प्रांगण में लगा बरगद का विशालकाय पेड़ गिर गया। भारी भरकम पेड़ गिरने से स्कूल भवन की छत और दीवारें ढह गई। जिस समय ये हादसा हुआ उस समय स्कूल शुरू नहीं हुआ। बच्चे स्कूल नहीं पहुंचे थे नहीं तो कोई हादसा नहींं हो जाता। बताया जा रहा है कि ये पेड़ काफी पुराना था। लेकिन अंचल में हो रही लगातार बारिश और जड़ें कमजोर होने की वजह से ये पेड़ धराशायी हो गया। पेड़ गिरने से ये माध्यमिक विद्यालय की छत और दीवारें ढह गई।

आपको बता दें कि इस परिसर में प्राइमरी, माध्यमिक और हायर सेकंडरी वर्ग के स्कूल लगते हैं। यहां 300 से ज्यादा बच्चें पढ़ते हैं। जब ये पेड़ गिरा तब स्कूल शुरू होने में आधा घंटा बाकी था। पेड़ भरभराकर गिरा पूरे गांव में दहशत मच गई। सारे ग्रामीण दौड़कर स्कूल के पास जमा हुए। बरगद के पेड़ का धार्मिक महत्व देखते हुए ग्रामीणों ने स्कूल के प्राचार्य, गांव के सरपंच और अन्य ने मिलकर पेड़ की पूजा अर्चना भी की।