सीधी। जिले में मंगलवार को हुए दर्दनाक सड़क हादसे में करीब 14 लोगों की मौत हो गई। इस दुर्घटना में 30 लोगों के घायल होने की जानकारी भी मिली है। जानकारी के अनुसार अमिलिया बहरी थाने के बीच सोन नदी जोगदहा पुल पर से वाहन के गिरने से यह हादसा हुआ।

हादसे में मृतकों की संख्‍या बढ़ सकती है। सीधी डीएम ने 13 लोगाें की मौत की बात कही है। मृतकों में बच्‍चों की संख्‍या अधिक बताई जा रही है। सीधी सांसद रीति पाठक ने 18 लोगों की मौत की पुष्टि की है।

सूचना पर कलेक्‍टर अौर पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए थे। इस दुर्घटना पर गहरी संवेदना जताते हुए मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने मृतकों के परिजनों को 2 -2 लाख और घायलों को 50 -50 हजार रुपये देने की घोषणा की है।

अंधेरा होने की वजह से रेस्क्यू करने में पुलिस और प्रशासन के अमले को दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है। वाहन नदी के बीचों बीच गिरा है।

बताया जाता है कि रात 9:30 बजे देवसर के हर्राबिजी गांव के मुजव्विल खान की बारात सिहावल के पमरिया गांव जा रही थी । तभी अचानक टाटा 709 एमपी 53 जीए 0841 वाहन सोन नदी पुल से डिवाइडर को तोड़ते हुए 70 फीट नीचे नदी में पत्थर से टकरा गया। बताया जाता है कि दूल्‍हा दूसरे वाहन में सवार था।

हादसे में लगभग 20 लोगों की तत्काल मौत की सूचना मिली है । इस दुर्घटना में दो दर्जन से अधिक लोगों के बुरी तरह घायल होने की जानकारी मिल रही है। दोनों थानों की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी हुई है।

सीधी पुलिस अधीक्षक मनोज श्रीवास्तव के अनुसार सूचना मिलने पर तत्काल सीधी से सहायता के लिए जरूरी संसाधन भेजा गया। घटना स्थल पर बहरी थाना प्रभारी विशाल शर्मा और अमिलिया के नवागत थाना प्रभारी दीपक सिंह बघेल भी अपनी टीम के साथ घटना स्थल पर मौजूद हैं।

घायलों को सीधी जिला अस्पताल भेजा गया है। बचाव कार्य अभी जारी है। रात होने की वजह से सहायता राहत कार्य में परेशानी हो रही है। घटना से लगता है मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। इसी क्षेत्र में कुछ साल पहले भी इसी तरह का भीषण हादसा हुआ था।