छतरपुर। प्रदेश की राज्यमंत्री ललिता यादव ने गुरुवार को ओलों से प्रभावित कई गांवों का दौरा कर किसानों को ढांढस बंधाया। उन्होंने कहा कि शासन ने राजस्व अमले से फसल क्षति का सर्वे कर शीघ्र रिपोर्ट मांगी है। सर्वे रिपोर्ट प्राप्त होते ही पीड़ित किसनों को मुआवजा राशि का वितरण किया जाएगा।

राज्यमंत्री ने अपने छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बनगांय, धामची, पिड़पा, कलानी और बछरौनियां समेत अनेक गांव पहुंचकर खेतों में जाकर ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया। खेतों तक बड़ा वाहन न पहुंच पाने पर राज्यमंत्री श्रीमती यादव बाइक पर बैठकर खेतों तक पहुंचीं। उन्होंने खेतों का मुआयना करने के साथ ही गांवों में चौपाल लगाकर किसानों का दुख दर्द जाना।

राज्यमंत्री ने कहा कि किसानों की संकट की इस घड़ी में मध्य प्रदेश सरकार उनके साथ है। ओलावृष्टि से जिन किसानों का नुकसान हुआ है उसकी भरपाई प्रदेश सरकार करेगी। किसानों को किसी भी सूरत में परेशान नहीं होने दिया जाएगा। राजनीतिक रोटियां सेंकने वालों की बातों में न आएं, हर किसान के साथ पूरी भाजपा सरकार है।

राज्यमंत्री ने मौके पर ही राजस्व विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिए कि सर्वे का कार्य पूरी पारदर्शिता से किया जाए। एक भी पीड़ित किसान का नाम सर्वे से छूटना नहीं चाहिए।

उन्होंने चौपाल लगाकर किसानों की समस्याएं सुनीं और कहा कि सर्वे में कोई गड़बड़ी होने पर उन्हें सूचना दें। हर पीड़ित किसान को मुआवजा राशि देने के लिए प्रदेश सरकार कटिबद्ध है। इस अवसर पर छतरपुर जनपद अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह यादव, कलेक्टर रमेश भंडारी, एसडीएम रवीन्द्र चौकसे, तहसीलदार आलोक वर्मा, राजस्व निरीक्षक, पटवारी आदि भी राज्यमंत्री के साथ थे।