Naidunia
    Saturday, April 21, 2018
    PreviousNext

    मुरैना में 10 वीं के पर्चे में पकड़े 104 नकलची छात्र

    Published: Tue, 13 Mar 2018 08:39 PM (IST) | Updated: Wed, 14 Mar 2018 07:42 AM (IST)
    By: Editorial Team
    copy exam 13 03 2018

    मुरैना। माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की परीक्षा में मंगलवार को 10वीं के सामाजिक विज्ञान के पेपर में 104 छात्र नकल करते हुए पकड़े गए। बागचीनी परीक्षा केन्द्र पर एक फर्जी परीक्षार्थी भी पकड़ा गया। पहले भी इसी केन्द्र पर 5 फर्जी परीक्षार्थी पकड़े गए थे।

    पॉलीटेक्निक परीक्षा केन्द्र में एक छात्रा प्रश्नपत्र देखते ही बेहोश हो गई। जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। 10वीं की परीक्षा में 39695 छात्र पंजीकृत है, लेकिन मंगलवार को 36190 छात्र परीक्षा देने के लिए पहुंचे। 3505 छात्र परीक्षा से अनुपस्थित रहे। बताया जाता है कि सख्ती की वजह से ही इतनी बड़ी संख्या में छात्र अनुपस्थित है।

    10वीं के सामाजिक विज्ञान के पर्चे में पूरे जिले में 104 नकलची छात्र पकड़े गए। इनमें सर्वाधिक नकलची छात्र मुरैना ब्लॉक में ही पकड़े गए। परीक्षा में मंगलवार को मुरैना में 82, पोरसा में 1, अंबाह में 6, जौरा में 9, कैलारस में 2, सबलगढ़ में 4 नकलची छात्र पकड़े गए। वहीं बागचीनी के शामावि स्कूल स्थित परीक्षा केन्द्र पर सर्चिंग के दौरान एक फर्जी छात्र पकड़ा गया।

    फर्जी परीक्षार्थी के खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया है। बताया जाता है कि परीक्षा केन्द्र पर जब छात्रों की सर्चिंग चल रही थी तभी बागवान का पुरा निवासी ढोलू पुत्र मतलू कुशवाह आया। पर्यवेक्षकों को उस पर शक हुआ। तब उससे पूछताछ की तो पता चला कि वह भूपेन्द्र यादव नामक छात्र की जगह परीक्षा देने के लिए आया है।

    पर्यवेक्षकों ने तुरंत उसे पकड़ लिया। इसके बाद केन्द्राध्यक्ष आरसी माहौर की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी छात्र के खिलाफ धोखाधड़ी व परीक्षा एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। इससे पहले बागचीनी परीक्षा केन्द्र पर ही पांच परीक्षार्थी फर्जी पकड़े गए थे, उनके खिलाफ भी आपराधिक मामला दर्ज किया गया है।

    पॉलीटेक्निक में छात्रा हुई बेहोश

    पालीटेक्निक में सुबह नौ बजे जैसे ही सामाजिक विज्ञान का प्रश्नपत्र छात्रों को दिया गया। वैसे ही छात्रा प्रतिक्षा पुत्री देवेन्द्र के हाथ में प्रश्नपत्र आया और उसने प्रश्नपत्र देखा, वह बेहोश हो गई। पर्यवेक्षकों ने 108 एंबुलेंस को बुलाकर छात्रा को जिला अस्पताल में उपचार के लिए भेजा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें