मुरैना। पेशी कर निकल रही महिला को कोर्ट के गेट पर ही उसके पहले पति ने अपने भाइयों व परिवार के अन्य लोगों की मदद से अपहरण कर लिया। इस दौरान हुए संघर्ष में आरोपितों ने महिला के पिता व उसके दूसरे पति के बड़े भाई सहित एक अन्य को लाठी-डंडों से हमला कर घायल कर दिया।

आरोपित महिला को जबरन कार में बैठा ले गए। घटना के बाद घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गुरुवार दोपहर दो बजे हुई घटना को लेकर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ अपहरण व मारपीट का प्रकरण दर्ज किया है।

एएसपी मुरैना आशुतोश बागरी ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। साथ ही टीम गठित कर आरोपितों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है। जल्द ही महिला को मुक्त करा लिया जाएगा।

घटनाक्रम के मुताबिक कैथोदा निवासी रामौतार पुत्र चिम्मन सिंह की बेटी रेखा की पहली शादी पावली मटकोरा सुमावली के जगदीश के साथ करीब साढ़े तीन साल पहले हुई थी। रामौतार के मुताबिक उसकी बेटी को उसका पति जगदीश व परिवार के लोग दहेज के लिए परेशान करते थे। वे रेखा को लेने के लिए भी नहीं आ रहे थे।

इसलिए उसने दिसंबर में बेटी की दूसरी शादी गंजरामपुर के मुंगाराम का पुरा निवासी भूरा पुत्र मंगल सिंह कुशवाह के साथ 12 दिसंबर 2018 को कर दी। गुरुवार को रेखा को लेकर जेठ गादीपाल पुत्र मंगल सिंह, परिवार के सुरेन्द्र सिंह के साथ कोर्ट आया। कोर्ट में पेशी कर जब गेट से निकल रहे थे। तब गेट के बाहर ही रेखा का पहला पति जगदीश के साथ बल्लू, विनोद, अमर सिंह व ओमप्रकाश आदि खड़े थे। आरोपितों ने हमला कर दिया और रेखा का अपहरण कर ले गए।