मुरैना। 34 जोड़े मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत टाउन हाल में बुधवार को फेरे लेने के लिए आए थे। लेकिन एन वक्त पर नगरनिगम द्वारा शादियां कराने से इनकार करने व 8 मार्च को शादी कराने की कहने से सभी जोड़े शादी कराने के लिए कलेक्टोरेट पर प्रदर्शन करने के लिए पहुंच गए। करीब एक घंटे तक प्रदर्शन किया।

इसके बाद नगरनिगम आयुक्त ने शादी कराने के लिए हां किया और व्यवस्था करने की बात कही। इसके बाद जोड़ों ने प्रदर्शन बंद कर टाउन हाल गए। हालांकि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत सामूहिक विवाह सम्मेलन 6 मार्च को होना था। विधायक के न होने से ननि आयुक्त 6 की जगह 8 मार्च को शादी कराना चाहते थे। आक्रोश को देखते हुए कलेक्टर से बात करने के बाद वे 6 मार्च को ही शादी कराने के लिए तैयाार हो गए।

पीले हाथ थे युवतियों के व हाथ में कटार

प्रदर्शन करने गई युवतियों के हाथ पीले थे। शादी की फेरे से पहले होने वाली सभी रस्में हो चुकी थी। युवतियां पीले हाथ लेकर व दूल्हें हाथ में कटार लेकर कलेक्टोरेट पर प्रदर्शन कर रहे थे। यह देखकर लोग आश्चर्य चकित थे। क्योंकि पहली बार ऐसा हुआ था कि शादी कराने के लिए वर व वधु शादी कराने के लिए कलेक्टोरेट पर प्रदर्शन करने पहुंचे थे।