मुरैना। नईदुनिया प्रतिनिधि

मध्यप्रदेश शिक्षक संघ की बैठक रविवार को पुरानी हाउसिंग बोर्ड कालोनी में आयोजित की गई। बैठक में शिक्षा के गिरते स्तर और बिगड़ती शैक्षणिक व्यवस्था को लेकर चिंता व्यक्त की। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष नरेश सिंह सिकरवार ने कहा कि कई स्कूलों में विषयवार शिक्षकों की भारी कमी है और कई स्कूलों में शिक्षक छात्र अनुपात से अधिक शिक्षक हैं। इस विषय पर शासन प्रशासन से बार बार मांग के बाद भी शिक्षकों की व्यवस्था नहीं की गई है। जिससे शैक्षणिक कैलंडर बिगड़ रहा है। समय पर सिलेवस पूरा न होने से परीक्षा परिणामों पर असर पड़ेगा। यही हालत इंग्लिश मीडियम स्कूलों की है।

श्री सिकरवार ने कहा कि सभी ब्लॉकों में वेतन भुगतान में देरी से किया जा रहा है। महीने की 15 तारीख के बाद वेतन का भुगतान पर शिक्षकों में असंतोष है। व्यक्त किया। मप्र शिक्षक संघ द्वारा चलाए जा रहे क्लीन स्कूल ग्रीन स्कूल कार्यक्रम की समीक्षा भी बैठक में की गई। पदाधिकारियों ने तय किया कि जिले में स्वच्छता और पौधारोपण के लिए अच्छा कार्य करने वाले स्कूलों को मप्र शिक्षक संघ पुरस्कृत करेगा। सभी मुद्दों को लेकर आंदोलन की कार्ययोजना तैयार की गयी। बैठक में विमलेश यादव,डॉ हरेन्द्र सिंह तोमर , रघुराज परमार, रामौतार सिकरवार, देवेंद्र सिकरवार,रामौतार सिंह मुद्रावजा ,रामबरन सिकरवार, रामस्नेही शर्मा, टीआर मांडिल,रूपसिंह , राघवेंद्र शर्मा आदि शामिल थे।