कराहल-विजयपुर। नईदुनिया न्यूज

माता-पिता के साथ पलायन कर गांव लौटे 15 कुपोषित बच्चों को ग्रोथ मोनिटरों की टीम ने एनआरसी में भर्ती कराया। कराहल की एनआरसी में ग्रोथ मॉनीटर ने 9 अति कुपोषितों को भर्ती कराया है तो विजयपुर की एनआरसी में ग्रोथ मॉनीटरों ने 6 अति कुपोषितों को भर्ती कराया है।

कराहल में ग्रोथ मोनिटर मनोज शर्मा व चेतन गुप्ता ने महिला बाल विकास विभाग की टीम ने अलग-अलग गांवों से करीब 9 बच्चों को चिन्हित कर माताओं के साथ कराहल एनआरसी में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने जांच उपरांत सभी बच्चों इलाज शुरू कर दिया। कराहल एनआरसी में सेक्टर पर्तवाड़ा के ग्राम सरारी निवासी खुशबू आदिवासी, ग्राम चितारा व नयागावं से शिवकुमार, अनिल आदिवासी, रीना आदिवासी को भर्ती कराया है। भूरवाड़ा गांव से प्राची आदिवासी, डोब गांव से सिमरन, अमित आदिवासी, साजन आदिवासी और पवन आदिवासी को एनआरसी पहुंचाया है। उधर विजयपुर में ग्रोथ मॉनिटर प्रशांत जादौन ने सिमरई गांव से गंभीर कुपोषित मुस्कान पुत्री अतर सिंह आदिवासी को एनआरसी पहुंचाया। ग्रोथ मॉनिटर मारुति नंदन अवस्थी ने चपरेंट एवं छोटी बावडी गांव से आकाश पिता बल्लू, सोरभ पुत्र तेजसिंह, अनिल पुत्र विजयराज, संजना पुत्री संतोष और शनि पुत्र विजयपाल आदिवासी को गंभीर कुपोषण की चपेट में होने से विजयपुर एनआरसी में पहुंचाया। इनमें से विजय पाल को बुखार होने के कारण एनआरसी से विजयपुर अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है।

फोटोः 14

कैप्शनः कुपोषित एनआरसी में भर्ती कराने ले जाते ग्रोथ मोनिटर।